काॅल सेंटर पर एईएन का रात्रि पड़ाव:बिजली की शिकायताें के तुरंत समाधान करने के प्रयास

जयपुर2 दिन पहलेलेखक: कन्हैया हरितवाल
  • कॉपी लिंक
गर्मी में तकनीकी खामियाें की वजह से रात के समय में बिजली बंद के कारण उपभाेक्ताओं काे हाेने वाली परेशानी का ध्यान रखते हुए जयपुर सिटी सर्किल ने व्यवस्था में बदलाव किया है। - Dainik Bhaskar
गर्मी में तकनीकी खामियाें की वजह से रात के समय में बिजली बंद के कारण उपभाेक्ताओं काे हाेने वाली परेशानी का ध्यान रखते हुए जयपुर सिटी सर्किल ने व्यवस्था में बदलाव किया है।

गर्मी में तकनीकी खामियाें की वजह से रात के समय में बिजली बंद के कारण उपभाेक्ताओं काे हाेने वाली परेशानी का ध्यान रखते हुए जयपुर सिटी सर्किल ने व्यवस्था में बदलाव किया है। अब रात के समय में शहर में बिजली बंद की शिकायताें की बेहतर माॅनिटरिंग के लिए काॅल सेंटर पर एईएन तैनात रहेंगे, जाे शिकायत आते ही संबंधित इलाके की एफआरटी, एईएन-जेईएन से काॅर्डिनेशन रखेंगे।

इसके साथ ही काॅल सेंटर पर लगे एजेंट उपभाेक्ताओं के शिकायती फाेन आने पर कैसे बात करते है, उसकी निगरानी रखी जाएगी। काॅल सेंटर पर राेजाना रात 10 से सुबह 6 बजे तक अलग-अलग एईएन की ड्यूटी लगाई गई है। सभी सबडिवीजन में 31 एईएन काे ड्यूटी लगाकर सख्त निर्देश दिए हैं कि किसी तरह की ढिलाई बरतने वालाें पर कार्रवाई की जाएगी।

टोल फ्री नंबर-1800-180-6507, 1912, 0141-2203000

  • बिजली मित्र माेबाइल एप
  • वाॅट्सअप नंबर-94140-37085
  • ट्विटर-@jvvnlccare

काॅल सेंटर पर रात में एईएन यह काम भी करेंगे

  • काॅल सेंटर पर लगे एजेंटों के व्यवहार को देखेंगे,वॉयस रिकॉर्डिंग सिस्टम पर
  • 33/11 केवी सिस्टम में रुकावट/ब्रेक डाउन की सूचना तुरंत संबंधित एक्सईएन और एईएन (एचटीएम) को दी जाएगी
  • पंजीकृत शिकायतों को एफआरटी को समय पर पहुंचाना और उनका उचित निवारण सुनिश्चित करना
  • एजेंट द्वारा बंद की गई शिकायत की रैंडम जांच/सत्यापन
  • एफआरटी वाहन की निगरानी
  • वर्तमान में प्राप्त कोई शिकायत, निवारण, लंबित और शिफ्ट ड्यूटी में एजेंटों और पर्यवेक्षकों की संख्या

गर्मी में तेजी के कारण शिकायताें का आंकड़ा भी बढ़कर 1000 पार पहुंचा

गर्मी में तेजी के कारण बिजली सप्लाई सिस्टम पर लाेड बढ़ने लग गया है। ऐसे में इन दिनाें बिजली बंद की शिकायताें का आंकड़ा भी बढ़ गया है, राेजाना 1000 से अधिक शिकायतें दर्ज हाे रही है। जबकि सामान्य दिनाें में 700 के आस-पास शिकायतें आती थी। जयपुर सिटी सर्किल के अनुसार अभी 248 लाख यूनिट राेजाना बिजली उपभाेग हाे रही है। वहीं सर्दियाें में 120 से 150 लाख यूनिट बिजली की खपत रहती है।

बढ़ती गर्मी के कारण लाइट बंद की शिकायताें का तुरंत निस्तारण करवाने के लिए रात के समय एईएन काॅल सेंटर पर माैजूद रहेंगे। यह व्यवस्था मानसून तक रहेगी, ताकि आंधी-बारिश में बिजली बंद के कारण उपभाेक्ताओं काे परेशानी नहीं हाे। - एके त्यागी,​​​​​​​ एसई, जयपुर सिटी सर्किल

खबरें और भी हैं...