पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

2 दिन पुराने नौकर ने लूटा:अकेली रह रही बुजुर्ग महिला को लुटेरों ने कुर्सी से बांधा और गहने-रुपए ले गए, बेहोशी का नाटक कर जान बचाई

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2 साल से घर में काम कर रहे नौकर ने ही लूटपाट करने वाले नौकर को काम पर रखवाया था
  • महिला का एक बेटा दुबई में और दूसरा अमेरिका में नौकरी करता है

जयपुर के बजाज नगर इलाके में मंगलवार रात लूट की बड़ी वारदात हुई। यहां घरेलू नौकर ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर एक बुजुर्ग महिला को कुर्सी से बांध दिया और गहने-रुपए ले गया। 65 साल की कुसुम शर्मा विवेक विहार कॉलोनी में अकेली रहती हैं। उनके 2 बेटे हैं। एक बेटा आशीष दुबई में और दूसरा अभय अमेरिका में नौकरी करते हैं। घटना के बाद उन्होंने खुद को छुड़ाया और पड़ोसी को सारी बात बताई।

कुसुमलता ने भावेश नाम के युवक को 2 दिन पहले ही घरेलू नौकर के तौर पर रखा था। वह रात करीब 10 बजे अपने साथियों के साथ आया और कुसुम शर्मा को बेडरूम में बंधक बना लिया। उनसे अलमारी और तिजोरी की चाबियां लेकर उसमें रखे सोने-चांदी के जेवरात और नकदी लूटकर फरार हो गए। महिला ने करीब एक घंटे बाद खुद को रस्सी से छुड़ाया।

बजाज नगर की विवेक विहार कॉलोनी के इसी घर में लूट की घटना हुई।
बजाज नगर की विवेक विहार कॉलोनी के इसी घर में लूट की घटना हुई।

चाकू लेकर आए और हाथ-पैर बांध दिए
कुसुम शर्मा ने बताया कि वह रात करीब 10 बजे अपने बेडरूम में कुर्सी पर बैठी थीं। तभी पीछे से नौकर भावेश आया और उसने आंखों पर कपड़े की पट्‌टी बांध दी। उसके एक साथी ने दोनों हाथ पकड़ लिए। बदमाशों ने धमकाया कि ज्यादा आवाज निकाली तो हाथ में चाकू है। गर्दन काट देंगे।

इसी दौरान लुटेरों ने उनके हाथ-पैर कुर्सी से बांध दिए। मुंह पर भी कपड़ा बांध दिया। विरोध करने पर उन्होंने कुसुम शर्मा को कुछ सुंघाया। उन्होंने उसे सूंघा नहीं, लेकिन बेहोशी का नाटक करने लगीं। लुटेरों को लगा कि वह सचमुच बेहोश हो गई हैं।

इसके बाद नौकर ने उनके पास रखा चाबी का गुच्छा उठाया और करीब आधा-पौन घंटे तक पूरे घर को खंगाला। अलमारी और तिजोरी में रखे सोने-चांदी के जेवरात और नकदी चुराकर सभी भाग गए। लुटेरों के जाने के करीब आधा घंटे बाद कुसुम शर्मा ने बंधे हाथ किसी तरह खोले और बाहर आकर पड़ोसी को बताया। वह इतनी घबरा गई थीं ठीक से बोल भी नहीं पा रही थीं। पड़ोसी ने ही पुलिस को सूचना दी।

पीड़ित कुसुमलता घटना के बाद इतनी घबरा गईं कि ठीक से बोल भी नहीं पा रही थीं।
पीड़ित कुसुमलता घटना के बाद इतनी घबरा गईं कि ठीक से बोल भी नहीं पा रही थीं।

एक कंपनी के जरिए नौकरी पर लगा था लुटेरा नौकर
मामले की जांच कर रही बजाज नगर थाना पुलिस ने बताया कि नौकर भावेश 2 दिन पहले ही काम पर आया था। इससे पहले हनुमान नाम का युवक यहां पिछले डेढ़-दो साल से महिला के यहां काम करता था। हनुमान ने तीन-चार दिन पहले गांव जाने की बात कही थी। तब कुसुम शर्मा ने उससे न जाने के लिए कहा, ताकि घर सूना न रहे। इस पर हनुमान ने ही भावेश को लगवाने की बात कही।

हनुमान बिहार का रहने वाला है और दिल्ली की एक कंपनी के जरिए काम पर लगा था। उसी कंपनी ने भावेश को भी भेजा था। अब पुलिस कंपनी के जरिए उसकी तलाश में जुटी है।

लूट की घटना के बाद घर में बिखरा पड़ा सामान।
लूट की घटना के बाद घर में बिखरा पड़ा सामान।
खबरें और भी हैं...