जयपुर में नाबालिग से सहेली के बॉयफ्रेंड ने किया रेप:नाश्ते में नशीला पदार्थ मिलाकर खिलाया, बेटी को रातभर ढूंढते रहे परिजन

जयपुर3 महीने पहले
भट्‌टाबस्ती थाना पुलिस ने नाबालिग से रेप के आरोपी आकाश नायक को गिरफ्तार किया। (डेमो पिक)

जयपुर में 17 साल की लड़की से रेप के मामले में सहेली के बॉयफ्रेंड को गिरफ्तार किया है। नाश्ते के बहाने आरोपी उसे होटल में ले गया था। नाश्ते में नशीला पदार्थ मिलाकर खिलाया।बेहोशी की हालत में नाबालिग से रेप किया। रातभर परिजन बेटी को ढूंढते रहे। अगले दिन बेहोशी की हालत में पीड़िता सामुदायिक केंद्र में मिली थी। भट्‌टाबस्ती थाना पुलिस ने पीड़िता की मां की रिपोर्ट पर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

SHO हुकम सिंह ने बताया कि पॉक्सो एक्ट में आरोपी आकाश नायक (20) पुत्र बाबूलाल नायक निवासी जेपी कॉलोनी सेक्टर-1 शास्त्री नगर को गिरफ्तार किया गया है। भट्‌टाबस्ती निवासी महिला ने 17 साल की बेटी से रेप का मामला दर्ज करवाया था। कुछ समय पहले उसकी बेटी को सहेली ने बॉयफ्रेंड आकाश नायक से मिलवाया था। बातचीत के दौरान दोनों में दोस्ती हो गई। 12 अगस्त की शाम करीब 4 बजे आरोपी आकाश ने मिलने के बहाने बेटी को बुलाया। नाश्ता करने की कहकर उसे होटल में ले गया। नाश्ते में नशीला पदार्थ मिलाकर खिला दिया।

रेस्ट करने की कहकर होटल के रूम में ले गया
चक्कर आने की बात कहने पर होटल के रुम में रेस्ट करने की कहा। बेहोशी की हालत में आरोपी आकाश ने नाबालिग से रेप किया। रात करीब 12-1 बजे होश आने पर घर छोड़ने की बोला। बोला चलते है और पीने के लिए कोल्डड्रिंक दी। कोल्डड्रिंक में नशा मिला होने के कारण दोबारा बेहोशी हो गई। बेहोशी की हालत में आरोपी ने रातभर उसके साथ रेप किया। सुबह होश आने पर रेप का पता चला। विरोध करने पर उसे बेहोशी की हालत में 17 नंबर बस स्टेण्ड के पास लाल बहादुर शास्त्री सामुदायिक केंद्र में छोड़कर चला गया।

सामुदायिक केन्द्र में बेहोशी की हालत में मिली बेटी
शाम करीब 4 बजे घर से गई नाबालिग बेटी को परिजन ढूंढते रहे। रातभर आस-पड़ोसी और रिश्तेदारों के यहां तलाशते रहे। अगले दिन सुबह करीब 10 बजे बेहोशी की हालत में नाबालिग बेटी सामुदायिक केंद्र में मिली। वहां से परिजन उसे घर ले गए। करीब डेढ़ दिन रेस्ट के बाद नाबालिग प्रोपर होश में आई। होश में आने पर उसने अपनी मां को आपबीती सुनाई। पीड़िता की मां ने थाने जाकर सहेली के दोस्त आकाश के खिलाफ मामला दर्ज करवाया।