• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Firing Took Place In Jaipur Due To Gang War, 4 Miscreants Who Came In 2 Vehicles Fired At The History Sheeter, Crushed Their Head With A Stone To Hide Their Identity

जयपुर में गैंगवार, हिस्ट्रीशीटर की हत्या:2 स्कूटी पर आए 6 बदमाशों ने 5 राउंड फायर किए, युवक को 3 गोली लगी, लेकिन मरा नहीं; फिर पत्थर से सिर कुचला

जयपुर9 महीने पहले
हिस्ट्रीशीटर अजय यादव की फाइल फोटो।

जयपुर में मंगलवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने हिस्ट्रीशीटर अजय यादव की हत्या कर दी। 6 बदमाश दो स्कूटी पर सवार होकर आए थे। बनीपार्क में राम मंदिर के पास सूत मील कॉलोनी में रेलवे फाटक के पास चाय की थड़ी के बाहर अजय को पहले 2 गोली मारी। इसके बाद पास में पड़े पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी बदमाश फरार हो गए। जयपुर एडिशनल कमिश्नर अजयपाल लांबा सहित तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पूरे जयपुर में ए श्रेणी की हथियारबंद नाकाबंदी कराई गई है। राजस्थान विधानसभा में मुख्य सचेतक महेश जोशी भी एसएमएस अस्पताल में देखने पहुंचे थे। अजय उनका नजदीकी बताया जाता है।

सदर थाने के हिस्ट्रीशीटर अजय यादव के खिलाफ 9 मुकदमे पहले से दर्ज थे। उसकी हत्या गैंगवार में होने की आशंका जताई जा रही है। जानकारी के अनुसार दोपहर 12:30 बजे अजय अपने साथी सौरभ के साथ स्कार्पियो गाड़ी लेकर सूत मिल कॉलोनी में राम मंदिर के पास आया था। वह चाय की थड़ी के पास गाड़ी में बैठा था। उसके साथ सौरभ भी मौजूद था। तभी दो स्कूटी पास में रुकी। इन पर छह बदमाश सवार थे। बदमाशों ने अजय की गाड़ी पर पहला फायर किया।

तब अजय स्कार्पियो के दूसरे गेट से निकलकर भागा। अन्य बदमाशों ने उसे दौड़ाते हुए पीछे से फायरिंग की। तभी गोली लगने पर अजय एक थड़ी के पास गिर पड़ा। इस दौरान 3 गोली अजय को लगी और बदमाशों की पिस्टल लॉक हो गई। तब बदमाशों ने उसे पकड़कर घसीटा। थोड़ी दूरी पर ले जाकर जमीन पर पटका। फिर भारी पत्थर से सिर पर कुचलकर मार डाला। इसके बाद भागते वक्त एक गोली सिर में मारी। घटना के दौरान कुल 5 राउंड फायर किए गए। पुलिस अजय के साथ मौजूद सौरभ और घटना के वक्त मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों से बदमाशों के हुलिए के बारे में पूछताछ कर रही है। सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है।

थड़ी के बाह बिखरे खून के निशान। जहां अजय यादव की सिर कुचलकर हत्या की गई
थड़ी के बाह बिखरे खून के निशान। जहां अजय यादव की सिर कुचलकर हत्या की गई

आसपास के लोग सहम गए

फायरिंग की सूचना मिलने पर बनीपार्क पुलिस मौके पर पहुंची। एकाएक फायरिंग की आवाज सुनकर लोग सहम गए। सभी इधर उधर भाग निकले। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर अजय यादव को एसएमएस अस्पताल पहुंचाया गया। फिलहाल बदमाशों का कुछ भी पता नहीं लग सका है।

अजय की गाड़ी, जिसमें वह बैठा था।
अजय की गाड़ी, जिसमें वह बैठा था।

गौरतलब है कि अजय यादव ने 2015 में गगन पण्डित पर जानलेवा हमला करवाया था। इस दौरान जयपुर के जवाहर नगर में फायरिंग की गई थी। इसके लिए हरियाणा के बदमाशों को ठहराया गया था। इन्हें अजय ने ही रुकवाया था। उसके खिलाफ पहला मुकदमा सदर थाने में 1997 में दर्ज हुआ था।

खबरें और भी हैं...