• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • For The First Time In The History Of Rajasthan; House Is Going On In Jaipur And 10 IAS Officers Including Head Of Bureaucracy Reached Bikaner

10 माह बाद फील्ड में उतरे सीएस:राजस्थान के इतिहास में ऐसा पहली बार; सदन चल रहा जयपुर में और ब्यूराेक्रेसी के मुखिया सहित 10 आईएएस अफसर बीकानेर पहुंच गए

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधानसभा के इतिहास में भी ऐसा पहली बार होगा, जब सदन की कार्यवाही के दौरान अफसर दीर्घा में आईएएस अफसराें की उपस्थित नहीं कम हाे। - Dainik Bhaskar
विधानसभा के इतिहास में भी ऐसा पहली बार होगा, जब सदन की कार्यवाही के दौरान अफसर दीर्घा में आईएएस अफसराें की उपस्थित नहीं कम हाे।

राजस्थान विधानसभा का सत्र चल रहा है। आगामी दो दिन 17 और 18 सितंबर का सदन का बिजनेस भी तय है। सत्र के दाैरान सभी मंत्रियाें, विधायकाें और सचिवालय के अफसराें के जयपुर में रहने की परंपरा हैं, लेकिन राज्य ब्यूराेक्रेसी के मुखिया यानी चीफ सेक्रेटरी निरंजन आर्य आधी सरकार को लेकर गुरुवार काे बीकानेर पहुंच गए। चलते सदन और बीच सत्र में ऐसे परंपरा नहीं रही है, जब इतनी संख्या में आईएएस जयपुर से बाहर चले जाए।

चीफ सेक्रेटरी बनने के करीब 10 माह बाद निरंजन आर्य गुरुवार को सामोद, सीकर, राजलदेसर, डूंगरगढ़ होते हुए बीकानेर पहुंच गए। वे अकेले नहीं पहुंचे हैं, उनके साथ करीब आधा दर्जन से ज्यादा विभागों के सचिव और प्रमुख सचिव भी हैं। कई शुक्रवार अलसुबह जाएंगे। सवाल यह है कि आईएएस अफसरों की फौज बीकानेर रहेंगी और सदन जयपुर में चलेंगा।

ऐसे में विधायकों के सवालों और बीजेपी के सरकार के हमले होने पर उनके मंत्री को रिप्लाई भेजने का काम कौन करेगा? विधानसभा के इतिहास में भी ऐसा पहली बार होगा, जब सदन की कार्यवाही के दौरान अफसर दीर्घा में आईएएस अफसराें की उपस्थित नहीं कम हाे।

कई बार अध्यक्ष स्पीकर सीपी जाेशी खुद डांट लगाने या नोटिस देने तक बात कर चुके है। ऐसे में शुक्रवार को सदन का माहौल देखने लायक होगा। इस मुद्दे को सत्तापक्ष के साथ खासतौर पर बीजेपी कैसे लेती हैं, यह देखना दिलचस्प हाेगा।

ये चार अफसर तो पहुंच चुके हैं, बाकी आज जाएंगे
सीएस निरंजन आर्य के बीकानेर दौरे के साथ ही आईएएस के के पाठक, नवीन जैन, ओम प्रकाश, महेंद्र पारख आदि पहुंच गए। बाकी शुक्रवार को जाने का कार्यक्रम तय है। इनमें नवीन महाजन, दिनेश कुमार, भवानीसिंह देथा, सिद्धार्थ महाजन, मंजू राजपाल आदि शामिल हैं।

सीएस ने रास्ते में कहीं थाने तो कहीं इंदिरा रसोई का निरीक्षण भी किया
मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने गुरुवार को बीकानेर जाते समय जिले के रतनगढ़ एवं राजलदेसर में विभिन्न स्थानों पर लोगों के अभाव अभियोग सुने और राजलदेसर पुलिस थाना का निरीक्षण किया। इस दौरान जिला कलक्टर सांवर मल वर्मा भी उनके साथ रहे।

सीएस ने थाने में महिला डेस्क, क्राइम रजिस्टर, स्टॉक रजिस्टर, माल खाना, हवालात, रसोई और बैरकों का निरीक्षण कर जानकारी ली। आर्य ने श्रीडूंगरगढ़ स्थित इंदिरा रसोई का अवलोकन कर भोजन की क्वालिटी देखी। रसोई में उपलब्ध करवाए जा रहे भोजन, मेन्यू इत्यादि के बारे में जानकारी दी। लखासर स्थित 33 केवी सबस्टेशन का अवलोकन किया। विद्युत सप्लाई की स्थिति, लॉसेस आदि की जानकारी ली।

सत्र के बीच अफसरों का बाहर जाना सदन का अपमान: राठौड़
राजस्थान विधानसभा के इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ कि चलते सत्र के दाैरान सरकार का कार्यकारी मुखिया यानी मुख्यसचिव बड़ी संख्या में आईएएस अफसराें काे लेकर जयपुर से बाहर गया हाे। यह विधानसभा का अपमान है। क्याेंकि विधानसभा में स्थगन, ध्यानाकर्षण प्रस्ताव, बिल पर बहस के दाैरान आईएएस अफसराें का ऑफिसर गैलरी में हाेना अनिर्वाय है। यह संसदीय परंपरा है।
-राजेंद्र राठाैड़, उप नेता प्रतिपक्ष

विधानसभा सत्र के दाैरान मुख्यसचिव या काेई आईएएस अफसर जयपुर से बाहर न जाए। ऐसी काेई बंदिश नहीं है।
-शांति धारीवाल, संसदीय कार्यमंत्री

प्रशासन शहरों के संग अभियान की तैयारी की समीक्षा करने के लिए बीकानेर आया हुआ हूं। मेरे साथ पांच या छह सचिव ही माैजूद रहेंगे। सत्र के दाैरान अगर काेई जरूरत पड़ी ताे वे अफसर वीसी से बीकानेर से जयपुर जुड़ जाएंगे।
-निरंजन आर्य, मुख्य सचिव

सीएस के आज के कार्यक्रम
शुक्रवार प्रातः 9 से 10 बजे सर्किट हाउस में जनसुनवाई करेंगे। प्रातः 11 से 6 बजे तक सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज में तीन जिलों के कलेक्टर-एसपी के साथ बैठक।