• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • For Two And A Half Years, The Verandahs Of The Jeweler's Market Have Rested On 4 Balls; After The Complaint, The Officers Come And The Bats Are Changed.

व्यापारियों और ग्राहकों को परेशानी:ढाई साल से 4 बल्लियों पर टिके हैं जौहरी बाजार के बरामदे; शिकायत के बाद अफसर आते हैं व बल्लियां बदल जाते हैं

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जौहरी बाजार के बरामदे पिछले ढाई साल से चार बल्लियों पर टिके हुए हैं। बारिश के दौरान लगातार पानी बहने से आसपास के दुकानों मैं पानी तो जमा हुआ ही, इससे पहले गर्मी में भी छत पर रखे एसी के आउटर क्षतिग्रस्त होने की वजह से व्यापारियों और ग्राहकों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। व्यापार मंडल की ओर से करीब 14 बार स्मार्ट सिटी कंपनी और नगर निगम को पत्र लिखा गया है।

इसके बावजूद भी कोई सुनवाई करने नहीं आया। जौहरी बाजार व्यापार मंडल के महासचिव कैलाश मित्तल ने बताया कि स्मार्ट सिटी कंपनी के अफसरों का जो रवैया है, उस हिसाब से दीपावली तक भी इन बरामदे की हालत सुधरती नजर नहीं आ रही। जौहरी बाजार का बरामदा ढाई साल पहले गाटर गिरने से क्षतिग्रस्त हुआ था तब से ही अफसरों ने लकड़ी की बल्लियां लगाकर छोड़ दिया है। बीच में तो बल्लियां भी टूट गई थी शिकायत करते हैं तो दो की जगह 4 बल्लियां लगा देते हैं और फिर भूल जाते हैं।

अफसरों का कहना है कि स्मार्ट सिटी की ओर से चांदपोल बाजार और किशनपोल बाजार में जो काम पेंडिंग चल रहा है, पहले उसे पूरा किया जाएगा और उसके बाद ही जौहरी बाजार व नेहरू बाजार समेत अन्य बाजारों के क्षतिग्रस्त बरामदों को दुरुस्त किया जा सकता है।

व्यापारियों ने लगाए आरोप : जबसे स्मार्ट सिटी आई है तब से निगम भी नहीं दे रहा ध्यान

नेहरू बाजार के बरामदे झूल रहे हैं। व्यापारियों ने 14 से अधिक पत्र लिखें लेकिन न तो नगर निगम ने उनकी सुध ली और ना ही स्मार्ट सिटी के अफसरों ने जाकर देखा। नेहरू बाजार व्यापार मंडल के नवनिर्वाचित अध्यक्ष अतुल आहूजा ने बताया कि पिछले चार सालों में जब से स्मार्ट सिटी कंपनी काम कर रही है तब से नगर निगम ने भी बाजारों की हालत पर ध्यान देना बंद कर दिया है और स्मार्ट सिटी के अफसर भी कोई काम नहीं करते।

अफसरों का तर्क जयपुर की सभी 10 बाजारों के बरामदे सुधारेंगे

स्मार्ट सिटी सीईओ व हेरिटेज निगम कमिश्नर अवधेश मीणा का कहना है कि जयपुर शहर की सभी 10 बाजारों के बरामदों को दुरुस्त किया जाना है। फिलहाल चांदपोल बाजार व किशनपोल बाजार में स्मार्ट सिटी कंपनी की ओर से जो प्रोजेक्ट चल रहा है, उसे पूरा करेंगे उसके बाद ही अन्य बाजारों को भी दूर किया जाएगा। जौहरी बाजार व बापू तथा नेहरू बाजार में अगर बरामदों के हालात ज्यादा खराब हैं तो उन्हें पहले संभाल लेंगे।

खबरें और भी हैं...