जयपुर में हो रही NCC गर्ल्स ने चलाई बंदूक:हथियार चलाने से लेकर मैप रीडिंग का दिया जा रहा प्रशिक्षण, गणतंत्र दिवस परेड के लिए कंटिजेंट भी किए जा रहे तैयार

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनुशासन के साथ परेड में शामिल हुई एनसीसी कैडेट्स। - Dainik Bhaskar
अनुशासन के साथ परेड में शामिल हुई एनसीसी कैडेट्स।

राजस्थान में कोरोना महामारी के कारण एनसीसी कैडेट्स के अभ्यास पर भी विपरीत असर पड़ा था। लेकिन अब दोबारा से कैडेट्स अपने अभ्यास शिविरों में जी जान से जुट गए हैं। राजधानी जयपुर में वन राज गर्ल्स बटालियन की कैडेट्स के शिविर में इन दिनों हथियारों का प्रशिक्षण कराया जा रहा हैं। जिसमे बड़ी संख्या में कैडेट्स जोश से भाग लेती दिखाई दे रही है।

जयपुर में वन राज बटालियन और चुरू में टू राज बटालियन के प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। कैम्प में 386 कैडेट्स हिस्सा ले रही हैं। जिन्हे इन शिविरों में हथियारों की बारीकी से जानकारी देने के सही ही साथ ही फायरिंग, मेप रीडिंग, परेड की ट्रेनिंग दी जा रही है।

राइफल चलाने का प्रशिक्षण लेती कैडेट्स।
राइफल चलाने का प्रशिक्षण लेती कैडेट्स।

ग्रुप कमांडर एसपी तिवारी ने बताया कि अगस्त से ही इन शिविरों की शुरूआत हुई थी। ग्रुप लेवल पर कैम्प नवंबर में होंगे। गणतंत्र दिवस परेड के लिए भी कंटिजेंट को तैयार किया जाएगा। उन्होंने बताया की अनुशासन ही जीवन की बुनियाद है। एक एनसीसी कैडेट अनुशासन में रहकर देश का अच्छा नागरिक बन सकता है। जिसकी इन्हे ट्रेनिंग दी जा रही है।

एनसीसी अधिकारियों एनुअल ट्रेनिंग कैम्प में यहां पहुंचे विभिन्न स्कूलों के कैडेट्स और उनके प्रशिक्षक भी यहां कई गतिविधियों का प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं। इसमें इन कैडेट्स को मिलने वाले टास्क को पूरा करने में यह कैडेट्स अपना दम-खम दिखा रहे हैं। कोविड काल में कैडेट्स के लिए गतिविधियां एक बारगी थम गई थी। लेकिन कई समय से इनका इंतजार करने वाले स्टूडेंट्स को यह फिर से मौका मिल सका हैं। कैडेट्स बताती है कि उन्हें इस नौ दिन के प्रशिक्षण में कई जानकारियां मिली है। जो आगे चल कर उनके लिए हरेक क्षेत्र में काम आएगी । भले ही वो सेना में जुड़ना हो या फिर करियर की कोई भी दिशा हो।

386 कैडेट्स एनसीसी ट्रेनिंग में ले रही है हिस्सा।
386 कैडेट्स एनसीसी ट्रेनिंग में ले रही है हिस्सा।