पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Gehlot Said I Am Currently Enjoying Alone In My Room, Doing All The Work Myself, Then It Seems That The Dignity Of Labor Is Called It

कोरोना पॉजिटिव होने के बाद आइसोलेशन में CM:गहलोत बोले- मैं अभी अकेला अपने रूम में आनंद ले रहा हूं, सारे काम खुद कर रहा हूं, तो लगता है कि डिग्निटी ऑफ लेबर इसे कहते हैं

जयपुर2 महीने पहले
सीएम अशोक गहलोत।
  • गहलोत ने कहा- बंगाल में भाजपा की पिटाई इतिहास में दर्ज हो गई है, ममता बनर्जी ने उन्हें धूल चटा दी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोरोना पॉजिटिव होने के बाद आइसोलेशन में रहकर काम कर रहे हैं। गहलोत ने कहा- मैं अभी अकेला अपने कमरे में आनंद ले रहा हूं। सारे काम अपने हाथ से कर रहा हूं तो लगता है कि डिग्निटी ऑफ लेबर इसे कहते हैं। इससे स्वास्थ्य अच्छा रहता है। गांधी ने भी फिजिकल वर्क को अहमयित दी थी। गहलोत इंटक के स्थापना दिवस पर वर्चुअल समारोह में बोल रहे थे। गहलोत ने कहा, एक बार एक्टर गोविंदा ने मुझे बताया था कि उन्होंने देवानंद साहब से एक बार पूछा था, आपके स्वास्थ्य का राज क्या है? गोविंदा देवानंद के पास बैठे थे, देवानंद कमरे से उठकर कोई चीज लेने चले गए। थोड़ी देर बाद वे लौटे तो देवानंद ने गोविंदा से कहा कि यही उनके स्वास्थ्य का राज है कि कुछ भी लेने खुद उठकर गया। अगर आप दिनभर खुद अपने हाथ से काम करेंगे तो शरीर स्वस्थ रहेगा।

गांधी कहते थे बिना शारीरिक श्रम किए खाना हराम है

गहलोत ने कहा, महात्मा गांधी ने शारीरिक परिश्रम को बहुत महत्व दिया था, वे कहते थे कि बिना परिश्रम किए खाना हराम है। गांधी ने इसे स्वास्थ्य से जोड़ा है। बिना परिश्रम ​किए खाना हजम नहीं होता है। देश में नई पीढ़ी गांधी से कट गई है। हमें स्वतंत्रता आंदोलन का इतिहास और गांधी से नई पीढ़ी को अवगत करवाना होगा।

बंगाल में भाजपा की पिटाई इतिहास में दर्ज हो गई है, ममता बनर्जी ने उन्हें धूल चटा दी
बंगाल चुनाव के परिणाम को लेकर गहलोत ने भाजपा और पीएम मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, मोदी-भाजपा ने हिंदू धर्म के नाम पर सांप्रदायिकता के नाम पर उछाल ले लिया। हिंदुत्व को लहर के रूप में ले लिया, इस कारण से मोदी को बार-बार सफलता मिल रही है। बंगाल में जो पिटाई हुई है, वह इतिहास में दर्ज हो गई है। पिछले चार माह से देश तमाशा देख रहा था। धनबल का खुला खेल हुआ। हिंदुत्व के नाम पर जो कुछ करने का प्रयास किया, ममता बनर्जी ने उन्हें धूल चटा दी। बहुत शानदार तरीके से पीटा गया है। मोदी को अब जो ग्राफ बढ़ना है, वह बढ़ गया है, अब आगे कुछ नहीं होने वाला।

खबरें और भी हैं...