पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Gehlot Said The Decision Of The High Command To Act On The Pilot, The Pilot Himself Created The 'Aa Bull Me Mera Wali' Situation, He Was Playing In The Hands Of The BJP.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब गहलोत ही पायलट:गहलोत ने कहा- पायलट पर कार्रवाई का फैसला आलाकमान का, पायलट ने खुद ‘आ बैल मुझे मार वाली’ स्थिति बनाई, वे भाजपा के हाथों में खेल रहे।

जयपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान की कांग्रेस सरकार में अभी तक दो पावर सेंटर सीएम व डिप्टी सीएम बने हुए थे। अब एक ही रह गया है। पायलट के साथ ही अब डिप्टी शब्द भी हट गया है। - Dainik Bhaskar
राजस्थान की कांग्रेस सरकार में अभी तक दो पावर सेंटर सीएम व डिप्टी सीएम बने हुए थे। अब एक ही रह गया है। पायलट के साथ ही अब डिप्टी शब्द भी हट गया है।
  • सचिन पायलट का ट्‌वीट- सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं।
  • भाजपा ने कहा- मंत्रिमंडल विस्तार गहलाेत का अिधकार, लेकिन इससे पहले वे बहुमत साबित करके दिखाएं।

राजस्थान में बगावत पर उतरे सचिन पायलट को कांग्रेस ने सत्ता और संगठन के पदों से भले ही बाहर कर दिया, लेकिन पांच दिन से सरकार पर चल रहा संकट अब भी बना हुआ है। इसका बड़ा कारण यह है कि 21 विधायकों के समर्थन का दावा कर रहे पायलट की मंगलवार को हुई क्रैश लैंडिंग के बावजूद यह साफ नहीं हो पाया कि उनकी इमरजेंसी लैंडिंग कहां होगी? वे भाजपा में जाएंगे या नई पार्टी बनाएंगे? हालांकि, पदों से हटाए जाने के तुरंत बाद पायलट ने ट्‌वीट किया- सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं।

दूसरी तरफ अपनी सियासी राह का सबसे बड़ा रोड़ा हटने के बाद सीएम अशोक गहलोत नई और ऊंची उड़ान पर हैं। विधायक दल की बैठक में पायलट और उनके समर्थक दो मंत्रियों के पद छीनने की घोषणा होते ही गहलोत तुरंत राजभवन गए और राज्यपाल कलराज मिश्र को इसकी जानकारी दी। मिश्र को यह भी बताया कि हमारी सरकार के पास पूरा बहुमत है।

मीडिया से कहा- पायलट पर कार्रवाई का फैसला पार्टी आलाकमान का है। पायलट ने खुद ‘आ बैल मुझे मार वाली’ स्थिति बनाई। वे भाजपा के हाथों में खेल रहे हैं। मध्यप्रदेश वाली टीम राजस्थान में भी सक्रिय हो गई है, लेकिन हमारी सरकार सुरक्षित है। इस बीच भाजपा मुखर हो गई। कहा- सरकार बहुमत खो चुकी है। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया बोले- गहलाेत काे मंत्रिमंडल विस्तार का अिधकार है, लेकिन उनकी सरकार टूट चुकी है।

उन्हें मंत्रिमंडल विस्तार से पहले जनता के लिए सदन में बहुमत साबित करके दिखाना चाहिए। बहरहाल, प्रदेश में चल रहा यह सियासी घमासान पायलट की आगामी रणनीति और गहलोत की जादूगरी के बीच दिलचस्प मोड़ पर है। पायलट बुधवार को दिल्ली में अगले कदम की घोषणा करेंगे। इसी के बाद प्रदेश की सियासी तस्वीर साफ होगी।

जो मध्यप्रदेश में हुआ, वही राजस्थान में होगा : पूनिया

जो मप्र में हुआ वह राजस्थान में भी होगा। सरकार बहुमत खो चुकी है और अल्पमत में है। भाजपा पूरेे घटनाक्रम पर नजर रखे हुए है।
- सतीश पूनिया, प्रदेशाध्यक्ष भाजपा

बीटीपी विधायक को कांग्रेस ने बंधक बनाया : राठौड़

सीएम के कहने पर बीटीपी विधायक राजकुमार को बंधक बना रखा है। दो मंत्री उन्हें खुलेआम धमका रहे हैं। कांग्रेस का यही लोकतंत्र है। सरकार अल्पमत में है। 

-राजेंद्र राठौड़, उपनेता, विधानसभा

तीन दिन से हम एमएलए क्वार्टर में कैद हैं : रोत

तीन दिन से हम एमएलए क्वार्टर में एक तरह से कैद हैं। हमें निकलने नहीं दिया जा रहा है। चारों तरफ पुलिस की गाड़ियां लगी हैं। पुलिस बदतमीजी भी कर रही है। 

-राजकुमार रोत, विधायक, बीटीपी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें