राजस्थान में मिले ओमिक्रॉन के 9 केस:दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के 4 लोग, संपर्क में आए 5 रिश्तेदारों की रिपोर्ट पॉजिटिव

जयपुर6 महीने पहले

कोरोना का सबसे खतरनाक वैरिएंट 'ओमिक्रॉन' राजस्थान में भी पहुंच गया है। एक ही परिवार के 4 और उनके रिश्तेदारों सहित कुल 9 लोगों की जीनोम सिक्वेंसिंग रिपोर्ट रविवार को पॉजिटिव आई। पति-पत्नी और उनके दो बच्चे 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से यात्रा करके दुबई-मुंबई होते हुए जयपुर पहुंचे थे। पूरा परिवार राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (RUHS) में भर्ती है।

रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया। इनके कॉन्टैक्ट में आए अन्य लोगों को निगरानी में रखा गया है। SMS मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सुधीर भण्डारी ने इसकी पुष्टि की है। राजस्थान देश में पांचवा राज्य है, जहां ओमिक्रॉन संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही जयपुर ऐसा शहर बन गया है, जहां ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा मरीज हैं।

स्वास्थ्य विभाग के सचिव वैभव गालरिया ने भास्कर को बताया कि साउथ अफ्रीका से लौटने वाले 4 लोगों के अलावा उनके संपर्क में आए 5 अन्य लोगों में कोरोना वायरस का ओमिक्रॉन स्ट्रेन मिला है।

भारत में पांचवां राज्य बना राजस्थान
कनार्टक, गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली के बाद ओमिक्रॉन वैरिएंट वाले मरीजों के लिहाज से राजस्थान पांचवां राज्य बन गया। इससे पहले कर्नाटक के बेंगलुरू में सबसे पहला केस सामने आया था। इसके बाद गुजरात के जाम नगर, महाराष्ट्र के मुंबई और दिल्ली में ओमिक्रॉन के केस सामने आए हैं।

25 नवंबर को आया था भारत
जयपुर CMHO डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि ये परिवार 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से निकला था, तब वहां सभी की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी। ये दक्षिण अफ्रीका से वाया दुबई होते हुए मुंबई पहुंचे थे। दुबई और मुंबई में भी इस परिवार के लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके बाद यह जयपुर पहुंचे और 28 नवंबर को जयपुर में सिटी पैलेस में एक शादी-समारोह में भी शामिल हुए।

सीटी स्कैन रिपोर्ट में भी कोई इंफेक्शन नहीं
RUHS में भर्ती परिवार के सदस्यों का 3 दिसंबर को एचआर सिटी स्कैन करवाया गया। हॉस्पिटल सुप्रिटेंडेंट डॉ. अजीत सिंह ने बताया कि इन सभी परिवार की एचआर सिटी रिपोर्ट सामान्य है। इनके लंग्स में किसी तरह का इंफेक्शन नहीं पाया गया है। जिस दिन से ये भर्ती हैं, उस दिन या उससे पहले इनमें किसी तरह के खांसी, बुखार, जुकाम, खराश या अन्य लक्षण नहीं हैं।

आदर्श नगर स्थित रिश्तेदार से मिले, वहां मिली जानकारी
CMHO डॉ. शर्मा ने बताया कि पिछले दिनों आदर्श नगर स्थित एक व्यक्ति की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उस व्यक्ति की जब कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की गई, तो पता चला कि उससे ये परिवार भी मिलने आया था। इस परिवार के जब सैंपल लिए तो एक दिसंबर को इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। ट्रैवल हिस्ट्री व अन्य जानकारी ली, तो पूरे मामले का पता चला। सामने आया कि यह कुछ दिन पहले ही दक्षिण अफ्रीका से सफर करके जयपुर पहुंचे हैं।

34 सैंपल में से 9 पॉजिटिव
स्वास्थ्य सचिव वैभव गालरिया ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार सहित उनके सम्पर्क में आए 34 लोगों के सैंपल लिए गए थे, जिनमें से 9 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। बाकी 25 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव है। परिवार के संपर्क में सीकर जिले के अजीतगढ़ का एक परिवार भी आया था। विभाग ने सीकर में उन सभी 8 लोगों की भी ट्रेसिंग की। वे सभी कोरोना नेगेटिव पाए गए हैं। इनके संपर्क में आए सभी लोगो की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर सैंपल लिए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...