मौतों के आंकड़े में अंतर:सरकारी आंकड़े 32 मौतें बता रहे, श्मशान व कब्रिस्तान में ही 41 शव पहुंचे

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
*डिसक्लेमर; सरकारी आंकड़ों की मानें तो 3 दिन में 87 मौतें जयपुर शहर में हुई हैं। मुक्तिधामों की तस्वीर और भयावह है। यहां गिनती खत्म ही नहीं होती। हम शवों और शवदाह गृह की फोटो छापने का पक्षधर नहीं हैं, लेकिन सच्चाई नहीं दिखाई तो पत्रकारिता के साथ अन्याय ही होगा। फोटो : अनिल शर्मा - Dainik Bhaskar
*डिसक्लेमर; सरकारी आंकड़ों की मानें तो 3 दिन में 87 मौतें जयपुर शहर में हुई हैं। मुक्तिधामों की तस्वीर और भयावह है। यहां गिनती खत्म ही नहीं होती। हम शवों और शवदाह गृह की फोटो छापने का पक्षधर नहीं हैं, लेकिन सच्चाई नहीं दिखाई तो पत्रकारिता के साथ अन्याय ही होगा। फोटो : अनिल शर्मा

लगातार दो दिन से सरकारी रिपोर्ट अनुसार कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा बराबर ही चल रहा है, यानि गुरुवार को भी कोरोना से 32 लोगों की ही मौत हुई है, वहीं अगर कब्रिस्तान व श्मशान की बात की जाए तो इस दौरान एक दिन में 41 कोरोना के शव पहुंचे है। वहीं पिछले दो दिन में कुल 95 लोगों की अंतिम क्रियाएं की गई हैं।

बीलवा कोरोना केयर सेंटर शुरू होने के दूसरे दिन ही दो शव आए
बीलवा कोरोना केयर सेंटर शुरू होने के दूसरे दिन ही यहां से अंतिम क्रिया के लिए दो शव आए हैं। नगर निगम द्वारा चिह्नित श्मशान संभाल रहे श्री नाथ गोशाला चेरिटेबल ट्रस्ट के महासचिव आरके शारा ने बताया कि बीलवा सेंटर से कोरोना के दो शव आए थे, जिनमें से एक को उनके परिजन झोटवाड़ा ले गए।

नगर निगम आदर्श नगर -19 घाटगेट कब्रिस्तान - 1 झोटवाड़ा कब्रिस्तान -1 आदर्श नगर अन्य श्मशान -15 लालकोठी -1 चांदपोल श्मशान - 4 सरकारी रिपोर्ट -32

बुधवार से तो कम शव आए लेकिन, दोपहर में एक साथ शव आने से एक बारगी तो कुछ पल इंतजार करना पड़ा।

खबरें और भी हैं...