शौक ने बना दिया नकबजन:ग्रेजुएट लड़के कर रहे पैसों के लिए नकबजनी,कई नकबजनी करनी कबूली

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी जयपुर की कोतवाली थाना पुलिस ने शातिर नकबजन गिरोह का पर्दाफाश किया है । पुलिस ने नकबजन गिरोह में शामिल चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है । पुलिस गिरफ्त में आए आरोपी राघव पारीक , प्रवीश खंडेलवाल और नीरज शर्मा है । मामले का खुलासा करते हुए डीसीपी नॉर्थ परिस देशमुख ने बताया कि इस सबंध में मिश्र राजाजी का रास्ता के कृष्णा मोरीजा हाउस में व्यापारी की दुकान के ताले तोड़कर अज्ञात शक्स लाखों रूप्ए के फोटोग्राफी , विडियोग्राफी कैमरे और इनके पार्टस पार कर फरार हो गए । पुलिस ने आस पास के व्यापारियों से पूछताछ के बाद इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरें खंगाले । पुलिस ने मुखबिरों से सूचना जुटाते हुए शातिर नकबजनों को चिन्हित किया । इस दौरान पुलिस ने शातिर नकबजन राघव पारीक और चोरी का माल बेचने वाले उसके साथी प्रवीश खण्डेलवाल को गिरफ्तार किया । इन आरोपियों से पूछताछ के बाद चोरी का माल खरीदने वाले आरोपी नीरज शर्मा को कनाट पैलेस नई दिल्ली से गिरफ्तार किया । पुलिस ने इन आरोपियों से वारदात में चोरी गये कैमरे,मोबाइल फोन और नकदी भी बरामद की है । इन आरोपियों से पूछताछ में सामने आया है कि बीती 20 मार्च को आरोपी राघव पारीक अकेला ही पीड़ित की दुकान पर आया और ताले तोडकर फोटोग्राफी , विडियोग्राफी कैमरें और अन्य सामान चोरी कर लिया । राघव सामान बैग में भरकर रस्सी के सहारे से नीचे उतरकर बैग लेकर श्रीमाधोपुर चला गया। तीनों ने कनाट पैलेस दिल्ली जाकर नीरज शर्मा को चोरी का माल सस्ते दामों में बेचकर अपना अपना हिस्सा बांट लिया । फिलहाल पुलिस इन आरोपियों से पूछताछ कर रही है । माना जा रहा है कि पूछताछ में कई और खुलासे सामने आ सकते है ।