• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Hawala Transactions Worth Crores Of Rupees Are Hidden In The Narrow Streets Of The Park, Robbers Who Bake Tandoori And Make Bags Also Come Out In Jaipur

जयपुर में चोरों के निशाने पर हवाला कारोबार:तंदूरी रोटने सेंकने और बैग बनाने वाले भी निकले लुटेरे, परकोटे की संकरी गलियों में करोड़ों रुपयों का ट्रांजेक्शन

जयपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वाला कारोबारी के फर्म पर लूट के लिए बदमाश हुलिया छिपाते है। मोबाइल और गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं करते। लेकिन सीसीटीवी फुटेज से पकड़े गए - Dainik Bhaskar
वाला कारोबारी के फर्म पर लूट के लिए बदमाश हुलिया छिपाते है। मोबाइल और गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं करते। लेकिन सीसीटीवी फुटेज से पकड़े गए

राजधानी जयपुर में हवाला कारोबार लुटेरों के निशाने पर है। पिछले चार सालों में लूट की लगभग 10 बड़ी वारदातें हो चुकी है। इनमें एक वारदात में 25 से 50 लाख रुपए तक की रकम लूटी गई है। इसके पीछे वजह यह है कि हवाला का सबसे बड़ा कारोबार परकोटे में कोतवाली और माणक चौक इलाके में होता है। यहां संकरी गलियों में पुराने मकानों में कारोबारी कमरा किराए पर लेकर चोरी छिपे लाखों करोड़ों रुपए का ट्रांजेक्शन करते है। हवाला के जरिए रकम पहुंचाने में व्यवसायी ज्यादा है।

ज्यादातर हवाला कारोबारी लाइसेंस के बिना कारोबार करते है। इसलिए लूटने के बाद भी मामला पुलिस तक नहीं पहुंचता है। इसलिए लुटेरे भी हवाला कारोबारियों को आसानी से निशाना बनाते है। सबसे खास बात यह है कि अब तक कई वारदातों में पुलिस की गिरफ्त में आए बदमाशों का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा है। वे ज्यादातर इन्हीं हवाला कारोबारियों के कर्मचारी, उनके परिचित और फिर यहां रुपयों का लेनदेन करने वाले युवक निकलते है।

परकोटे में संकरी गलियों में बने मकानों में चलता है करोड़ों रुपए के ट्रांजेक्शन का हवाला कारोबार
परकोटे में संकरी गलियों में बने मकानों में चलता है करोड़ों रुपए के ट्रांजेक्शन का हवाला कारोबार

पुलिस से बचने के लिए मोबाइल और खुद की गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं करते है

पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए बदमाश अब मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करते। हेलमेट लगाकर, चेहरा छिपाकर आते है। खुद की गाड़ी भी लेकर नहीं आते है। ज्यादातर वारदातों में ई रिक्शा, ऑटोरिक्शा या फिर किराए की टैक्सी कार का उपयोग करते है। इसके बाद भी पुलिस सीसीटीवी फुटेज की मदद से कड़ी जोड़कर पांच से दस दिन में लाखों रुपए की इन लूट का खुलासा करने में कामयाब रही है। पुलिस की गिरफ्त में मां-बेटे, शादियों में तंदूरी रोटी सेंकने वाले, बैग बनाने की दुकान पर काम करने वाले बदमाश तक गिरफ्तार हुए है।

23 अक्टूबर को हवाला कारोबारी की पत्नी को बंधक बनाकर 25 लाख रुपए लूटे
कोतवाली इलाके में मिश्र राजा जी का रास्ता में 23 अक्टूबर 2021 को शाम 4:30 बजे हवाला कारोबारी पबीरदास की पत्नी रेखा को चाकू की नोंक पर बंधक बनाकर 25 लाख रुपए लूटे। पुलिस ने 10 दिन में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सुराग जुटाकर पश्चिम बंगाल निवासी पबीरदास और अनिल को गिरफ्तार किया। इनमें मास्टरमाइंड पबीरदास बचपन से जयपुर में रहता आया है।

मिश्र राजा जी के रास्ते में 25 लाख रुपए लूटने वाला बदमाश सीसीटीवी में नजर आया
मिश्र राजा जी के रास्ते में 25 लाख रुपए लूटने वाला बदमाश सीसीटीवी में नजर आया

यहां नाहरगढ़ रोड पर बैग बनाने की दुकान पर काम करता था। वह प्रेमा देवासी के ऑफिस में अपने सेठ के लिए रकम पहुंचाता था। इसलिए रुपयों की जरुरत पड़ने पर हवाला कारोबारी को निशाना बनाया। उसने सोचा था कि लूट के बाद प्रेमा देवासी पुलिस को सूचना नहीं देगा। लेकिन केस कोतवाली पुलिस तक पहुंच गया।

12 दिन पहले हवाला कारोबारी के घर 25 लाख रुपए लूटने वाले दोनों बदमाश पकड़े गए
12 दिन पहले हवाला कारोबारी के घर 25 लाख रुपए लूटने वाले दोनों बदमाश पकड़े गए

10 मार्च 2021 को दोपहर 2:30 बजे पिस्तौल दिखाकर लूटे थे 45 लाख रुपए
कोतवाली इलाके में ही किशनपोल बाजार स्थित खूंटेटों के रास्ते में मकान नंबर 319 में दो बदमाशों ने हवाला कारोबार करने वाली फर्म केडीएम एंटरप्राइजेज को निशाना बनाया। यहां वैशाली नगर निवासी कर्मचारी प्रियांशु उर्फ बंटी ने अपने मां, बड़े भाई और अहमदाबाद के परिचित रिश्तेदार के मार्फत लूट की साजिश रची। हेलमेट पहनकर आए और बंधक बनाकर 45 लाख रुपयों से भरा बैग लुटकर भाग निकले।

वारदात के चार दिन में कोतवाली पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से खुलासा कर दिया। यहां भी बदमाशों को लगा कि गुजरात निवासी हवाला कारोबारी रोहित कुमार थाने में सूचना नहीं देगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वारदात में चित्रकूट निवासी प्रियांशु, उसका सगा भाई रवि शर्मा, मां हंसा शर्मा, ड्राइवर हनुमान सहाय और मोहित कुमावत के अलावा मास्टरमाइंड पार्थ व्यास गिरफ्तार हुए। आर्थिक कर्जा दूर करने के लिए पार्थ ने हंसा देवी और प्रियांशु के मार्फत यह साजिश रची थी।

2 नवंबर 2017 को हवाला कारोबारी के ऑफिस में हमला कर लूटा
कोतवाली इलाके में ही बाबा हरिशचंद्र मार्ग स्थित रामचंद्र की गली में बदमाशों ने एक हवाला कारोबारी के ऑफिस में दो कर्मचारियों पर हमला कर साढ़े 3 लाख रुपए लूटे। जिसमें विशाल उर्फ बिट्टू (19) निवासी इंदिरा कॉलोनी, शास्त्री नगर और उसके साथियों को गिरफ्तार किया। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी विशाल उर्फ बिट्‌टू शादी-पार्टियों में तंदूरी रोटी बनाने का काम करता है।

रुपयों की जरुरत होने पर विशाल व उसके पांच साथियों ने मिलकर लूट की योजना बनाई थी। आरोपियों को पकड़ने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। वे तीन बाइक पर आए थे। इनमें 4 बदमाश हवाला कारोबारी के ऑफिस में गए और वहां मौजूद सिरोही निवासी कर्मचारी भौमाराम प्रजापति व रणछोड़ पर ताबड़तोड़ हमला कर ​दिया।

2017 में ही माणकचौक में कर्मचारी को बंधक बनाकर 50 लाख रुपए लूटे
चार साल पहले माणकचौक इलाके में शाम 4.30 बजे जौहरी बाजार में परतानियों का रास्ता में बारह गणगौर का चौराहा स्थित तोतुका की गली में राजेश ट्रेडिंग में वारदात हुई थी। वहां बाइक पर आए नकाबपोश बदमाशों ने हवाला कारोबार करने वाली राजेश ट्रेडिंग कंपनी में करीब 50 लाख रुपए लूटे। जिसमें चार बदमाश शामिल थे। इसमें कर्मचारी अभिषेक की भूमिका को संदिग्ध माना गया था।

हवाला कारोबारी का ऑफिस समझकर एक्सिस बैंक में हुई थी वारदात
जयपुर में चार साल पहले सी-स्कीम रमेश मार्ग स्थित एक्सिस बैंक में 926 करोड़ रु. की डकैती का प्रयास हुआ था। जिसमें जैसलमेर से बदमाशों को गिरफ्तार किया था। इनमें दो जयपुर के बदमाशों सहित आठ लोग पकड़े गए थे। पूछताछ में खुलासा हुआ था कि सरगना हनुमान लादेन व पवन जाटिया ने एक माह से जयपुर के रहने वाले दो बदमाशों के साथ मिलकर डकैती की योजना बना रहे थे।

पूछताछ में हनुमान व पवन ने जयपुर में हवाला की करोड़ों की राशि लूटने की बात कही। सभी आरोपी एक इनोवा व स्विफ्ट डिजायर से जयपुर से आए थे। आरोपियों में एक निजी बिल्डिंग में स्थित बैंक में घुसकर सिक्यूरिटी गार्ड प्रमोद कुमार को बंधक बना लिया। इसके बाद पूछने पर प्रमोद ने बताया कि वह पुलिसकर्मी है। तब बदमाशों का पता चला कि यह हवाला कारोबारी का ऑफिस नहीं एक एक्सिस बैंक है। इस दौरान ही फायरिंग होने से बदमाश भाग गए।

खबरें और भी हैं...