• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • He Used To Shoot Videos With The Miscreants For Panic, The Purpose Of Making An Identity Like The Gangster Sukha Of Punjab

बड़ा गैंगस्टर बनना चाहता था सुक्खा, VIDEO:ढाबे पर सब्जी अच्छी नहीं लगी तो चला दी थी गोली, दहशत के लिए अपलोड करता था वीडियो

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: विक्रम सिंह सोलंकी
हवा में हथियार लहराता सुक्खा (दाएं से दूसरा)।

कोटपूतली में 13 अक्टूबर को चारों ओर से घिर जाने पर बदमाश सुक्खा गुर्जर उर्फ रूपाचंद ने खुद को गोली मार आत्महत्या कर ली थी। सुक्खा तीन साल पहले तक अपराधों से काफी दूर था। खेतड़ी के चिरानी गैंग के संपर्क में आया तो अपराध की दुनिया में सिक्का जमाने की ठान ली। पंजाब के गैंगस्टर सुक्खा काहलवां की तरह पहचान बनाना चाहता था। अब सुक्खा के कई ऐसे वीडियो सामने आए हैं, जिनमें वह खेतों में कई युवकों के साथ हथियार लेकर फायरिंग कर रहा है। लोगों में दहशत फैला रहा है। एक वीडियो में उसका देसी पिस्टल अटक जाता है। दोबारा उससे फायर करता है। एक बार उसने सिर्फ इसलिए गोली चला दी क्योंकि ढाबे पर भिंडी की सब्जी अच्छी नहीं बनी थी।

सोशल मीडिया पर हथियारों के साथ फोटो पोस्ट करता था सुक्खा।
सोशल मीडिया पर हथियारों के साथ फोटो पोस्ट करता था सुक्खा।

सुक्खा गुर्जर झुंझुनूं के खेतड़ी के दुधवा गांव का था। ठेकेदार की हत्या के मामले में 6 महीने से फरार चल रहा था। फिर भी सोशल मीडिया पर एक्टिव था। गिरोह के बदमाशों के साथ हथियारों से शूटिंग की प्रैक्टिस करते हुए सुक्खा वीडियो अपलोड कर रहा था। लोगों में दहशत फैलाने के लिए हथियारों के साथ उसने वीडियो बनाए। शराब ठेकेदार की हत्या के बाद फरार सुक्खा के कई फोटो व वीडियो अपलोड हुए थे। सोशल मीडिया पर लोकेशन भी शेयर हुए। फिर भी पुलिस उसे पकड़ नहीं सकी थी।

सुक्खा ने हथियारों के साथ फोटो फेसबुक पर अपलोड़ कर रखे थे।
सुक्खा ने हथियारों के साथ फोटो फेसबुक पर अपलोड़ कर रखे थे।

डरा-धमका कर करता जा रहा अपराध

सुक्खा खुद की सुक्खा शूटर के नाम पहचान बनाने में जुटा था। उसके सिर पर जुनून सवार हो रहा था। छोटी-छोटी बातों पर फायरिंग करने लग गया था। जांच में सामने आया है कि ढाई महीने पहले प्रागपुरा जयपुर में भी फायरिंग की थी। हरसोड़ा अलवर में भी सब्जी की बात को लेकर फायरिंग की थी। कोटपूतली के पूतली गांव में भी भिंडी की सब्जी बनाने को लेकर ढाबा मालिक पर फायरिंग की गई थी। इसके अलावा बानसूर में 10 दिन पहले भी घर के सामने फायरिंग हुई थी। इन चारों फायरिंग की घटनाओं में उसका नाम सामने आया है।

हथियारों के साथ फोटो दिखाकर दहशत फैलाता था।
हथियारों के साथ फोटो दिखाकर दहशत फैलाता था।

कौन है सुक्खा गुर्जर

सुक्खा के खिलाफ पहला मामला 2020 में दर्ज हुआ था। फिर उस पर मारपीट के चार मुकदमे दर्ज हुए। 4 बार जेल भी जा चुका था। 6 महीने पहले उसने शराब उधार नहीं देने पर ठेकेदार महेंद्र सिंह की हत्या कर डाली थी। तब से वह फरार था। पहले 2 हजार और फिर 5 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया गया। उसके कई साथी पकड़े गए थे। तीन दिन से उसकी लोकेशन कोटपूतली में मिल रही थी।

सुक्खा हथियार लेकर दिखाते हुए। (लाल घेरे में )
सुक्खा हथियार लेकर दिखाते हुए। (लाल घेरे में )

कोटपूतली में खुद को गोली मारी

सुक्खा अपने दो साथियों के साथ स्कॉपियों गाड़ी में था। कोटपूतली के बाला के नांगल में लोकेशन मिलने पर इंस्पेक्टर दिलीप सिंह उसका पीछा करने लगे। तब उन्होंने बाजरे के खेत में स्कॉपियों उतार कर खड़ी कर दी। पुलिस तलाश करती हुई पहुंची तो वे फायरिंग करने लगे। सुक्खा के दो साथी फायरिंग करते हुए भाग गए। पुलिस ने सुक्खा को घेर लिया था।

पुलिस से घिरा शार्प शूटर, खुद को गोली मारी:हत्या में वांटेड था, लोकेशन ट्रेस होते ही पुलिस ने खेतों में घेर लिया था, पिस्टल हाथ में लेकर फैलाता था दहशत

खबरें और भी हैं...