बंद कारखानों के बिल नहीं देने पर कुर्की होगी:फैक्ट्री का पानी बिल बाकी तो मालिक का घरेलू कनेक्शन कटेगा

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के जिन उद्याेग-कारखानाें पर पानी का बिल बाकी है उन पर पीएचईडी सख्ती करेगा। - Dainik Bhaskar
शहर के जिन उद्याेग-कारखानाें पर पानी का बिल बाकी है उन पर पीएचईडी सख्ती करेगा।

शहर के जिन उद्याेग-कारखानाें पर पानी का बिल बाकी है उन पर पीएचईडी सख्ती करेगा। सबसे पहले वाे कारखाने चिन्हित किए जाएंगे जाे पानी का बिल जमा करवाए बिना बंद हाे गए। औद्याेगिक पानी कनेक्शन पर 5 हजार रुपए से अधिक का पानी बिल बकाया है और मालिक ने कारखाना बंद कर दिया। अब बकाया बिल वसूली करने के लिए पीएचईडी के अधिकारी कारखाना मालिकाें के घर का पता ढूंढेंगे और घरेलू पानी कनेक्शन के बिल के साथ यह बिल भेजेंगे। 22 नवंबर से पीएचईडी का राजस्व वसूली अभियान शुरू हाेगा। यदि काेई व्यक्ति तय समय पर भुगतान नहीं करेगा ताे उसके घर का पानी कनेक्शन काट दिया जाएगा।

सिटी सर्किल में करीब 4 हजार पानी कनेक्शन उद्याेगाें काे दिए गए हैं, जिनमें से 2 हजार डिस्कनेक्ट हाे चुके हैं। कनेक्टेड कनेक्शनाें काे ताे ट्रैक करना आसान है। अब अधिकारी डिस्कनेक्ट हाे चुके पानी कनेक्शनाें पर किस पर कितना बकाया है, इसकी लिस्टिंग करेंगे और फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इन पर पानी बिल की बकाया राशि

राज्य के सरकारी विभाग 1.11 कराेड़

  • केन्द्र के सरकारी विभाग- 12.29 लाख
  • अन्य सरकारी विभाग-4.49 कराेड़
  • जेडीए पर 12.91 लाख
  • नगर निगम 56 हजार
  • अन्य उपभाेक्ताओं पर 100 कराेड़

पीएचईडी के एसीई मनीष बेनीवाल ने बताया कि राजस्व वसूली के लिए अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत जिन कारखानाें पर पानी बिल बकाया था और बंद हाे गए। ऐसे काे चिन्हित कर उनके मालिकाें का पता लगाकर घर पर बिल भेजा जाएगा। बिल जमा नहीं करवाने की स्थिति में पीडीआर एक्ट के तहत संपत्ति कुर्की की भी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...