पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

देव दर्शन नहीं, देहरी पूजन की रीत:मोतीडूंगरी गणेशजी की सीधी सेवा-पूजा नहीं कर पाए तो नवदंपती ने देहरी पूजन किया

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में मंदिर की देहरी पूजता परिवार। (फोटो - अनिल शर्मा)

भड़ल्या नवमी के सावे पर सोमवार को 1200 से ज्यादा शादियां हुईं। कोरोनाकाल में वर-वधू पक्ष के परिवार ही विवाह के साक्षी बने, मेहमान शामिल नहीं हो पाए। विवाह के बाद देवताओं को धोकने का रिवाज है, देवालय भी बंद हैं। मोतीडूंगरी गणेशजी की सीधी सेवा-पूजा नहीं कर पाए तो नवदंपती ने देहरी पूजन किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें