बैन के बावजूद मकान मालिक ने पाला पिटबुल, लोग भयभीत:पशु प्रबंधन शाखा में रजिस्ट्रेशन के बिना शहर में पिटबुल नस्ल के विदेशी डॉग को रखना अवैध

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम हेरिटेज के गंगापोल क्षेत्र रावल जी का गट्टा में एक परिवार द्वारा घर में अवैध रूप से पिटबुल डॉग काे रखे जाने के कारण आसपास के निवासियों में भय व्याप्त है। - Dainik Bhaskar
नगर निगम हेरिटेज के गंगापोल क्षेत्र रावल जी का गट्टा में एक परिवार द्वारा घर में अवैध रूप से पिटबुल डॉग काे रखे जाने के कारण आसपास के निवासियों में भय व्याप्त है।

नगर निगम हेरिटेज के गंगापोल क्षेत्र रावल जी का गट्टा में एक परिवार द्वारा घर में अवैध रूप से पिटबुल डॉग काे रखे जाने के कारण आसपास के निवासियों में भय व्याप्त है। परिवार के लाेगाें द्वारा खुले में डॉग काे घुमाने के दाैरान काटने की घटनाएं हाे चुकी हैं। स्थानीय लाेगाें ने नगर निगम हेरिटेज में पिटबुल डॉग की सूचना दी, लेकिन डॉग काे अब तक पकड़ा नहीं जा सका। गौरतलब है कि पिटबुल नस्ल के विदेशी डॉग काे पालना अवैध है। डॉग का नगर निगम हेरिटेज की पशु प्रबंधन शाखा में रजिस्ट्रेशन नहीं है। स्थानीय लाेगाें का कहना है कि डॉग काे निगम की शाखा पकड़ने गई थी, लेकिन विरोध के चलते लौटना पड़ा।

पांच महीने पहले इस घटना से सहम गया था शहर
देश के कई राज्यों में प्रतिबंधित डॉग पिटबुल ने इस साल 19 जुलाई काे अजमेर रोड की हनुमान वाटिका में एक घर पर माली का काम करने वाले जगदीश मीणा के 11 साल के बच्चे को 32 जगह काट खाया था। वे घर के गैरेज में रहते थे और गार्ड का भी काम करते थे। 11 साल के अपने बच्चे को पिटबुल के जबड़े में देखा तो मां के होश उड़ गए थे। घटना के बाद चित्रकूट थाना पुलिस ने मकान मालिक पर लापरवाही और माली को धमकाकर चुप रहने के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

नगर निगम की एनिमल शाखा ने पिटबुल को अपनी कस्टडी में ले लिया था। नियम के अनुसार इस तरह के डॉग को रखने के लिए रजिस्ट्रेशन ज़रूरी है। देश के कई राज्यों में पाबंदी है। 12 मई 2021 को कर्नाटक में इस डॉग ने एक युवक की जान ली थी। अमेरिका में तो हर साल पिटबुल के अटैक के कारण 50 लाेग की जान चली जाती है।

इस नस्ल के डॉग को पालने पर जयपुर में पाबंदी है। पशु प्रबंधन शाखा से डाॅग काे कस्टडी में लिया जाएगा। नियम के अनुसार इस तरह के डॉग को रखने के लिए रजिस्ट्रेशन ज़रूरी है। - मुनेश गुर्जर, मेयर, नगर निगम हेरिटेज

खबरें और भी हैं...