पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In 2018, Congress Formed The Government By Taking 0.5% More Than BJP, BJP Worried By Increasing The Vote Of Congress By 10% In The By elections.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चुनावी विश्लेषण:2018 में बीजेपी से 0.5% वाेट अधिक लेकर कांग्रेस ने बनाई थी सरकार, उपचुनाव में कांग्रेस का वोट 10% बढ़ने से बीजेपी चिंतित

जयपुर14 दिन पहलेलेखक: हर्ष खटाना
  • कॉपी लिंक
  • विधानसभा उपचुनावों में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा रहा, भाजपा को दो सीटों पर डेढ़ गुना से अधिक मार्जिन से मात दी

कांग्रेस ने उप चुनावाें में अच्छा प्रदर्शन करके प्रदेश बीजेपी से लेकर दिल्ली में बैठे नेताओं की चिंताएं बढ़ा दी है। ऐसा इसलिए क्याेंकि कांग्रेस ने उप चुनावाें में बीजेपी काे दाे सीटाें पर डेढ़ गुना से अधिक मार्जिन से पटखनी दी है। वहीं 2018 के विधानसभा चुनाव में राजसमंद में कांग्रेस काे 24 हजार से अधिक वाेटाें से शिकस्त मिली थी वहां पर अब हार का मार्जिन करीब 5 हजार है।

यानी की पिछले चुनावाें की तुलना में कांग्रेस ने 10 प्रतिशत का वाेट प्रतिशत बढ़ाकर गैन किया है। गाैरतलब है कि उप चुनावाें में 2018 के विधानसभा चुनावाें की तुलना में करीब 9% मतदान कम हुआ था।

सुजानगढ़ का एकतरफा चुनाव: कांग्रेस काे 49 प्रतिशत वोट मिले, वहीं बीजेपी को 27 प्रतिशत वोट हासिल हुए

सुजानगढ़ में वर्ष 2018 के चुनाव में मास्टर भंवरलाल मेघवाल की जीत का मार्जिन खेमाराम के समक्ष 38749 था। इस बार भले ही वाेटिंग प्रतिशत कम रहा लेकिन उनके बेटे मनाेज ने जीत के अंतर में बड़ा फर्क नहीं आने दिया और इस बार जीत का मार्जिन 35611 का है। मनाेज काे 49.30 वाेट मिले थे जबकि बीजेपी प्रत्याशी काे 27 प्रतिशत ही वाेट हासिल हुए है। यानी की अंतर पाैने दाे गुना का है। वहीं आरएलपी प्रत्याशी ने भी सुजानगढ़ में अच्छा प्रदर्शन किया।

सहाड़ा : 2018 में 7 हजार वाेटाें से हारने वाली बीजेपी काे कांग्रेस ने इस बार 42 हजार से हराया
सहाड़ा में 2018 के विधानसभा चुनाव में कैलाश त्रिवेदी काे 65 हजार420 वाेट मिले थे जबकि बीजेपी के रूपलाल जाट काे 58414 वाेट मिले थे। तब बीजेपी यहां पर 7006 से हारी थी। इस बार बीजेपी उम्मीदवार 42200 वाेटाे से हारा है। कांग्रेस प्रत्याशी का वाेट प्रतिशत 56.77 है ताे बीजेपी प्रत्याशी का 28.14 प्रतिशत है। दिवंगत कैलाश चाैधरी की पत्नी काे अपने पति की तुलना में 15 से अधिक वाेट मिले साे अलग बात रही। ये फर्क पाैने दाे गुना का है।

लादूराम पितलिया प्रकरण के बाद ये हाॅट सीट बन गई थी। बीजेपी ने 10 से अधिक बड़ी सभाएं कराई थी। खुद प्रदेशाध्यक्ष से लेकर कई बीजेपी नेताओं ने खूब फैरे लगाए थे। बीजेपी के बागी के रूप में निर्दलीय फार्म भराने वाले व्यक्ति लादूराम पितलिया तक काे नाम वापसी कराके बैठाया गया था लेकिन बात नहीं बनी।

राजसमंद : मां 24 हजार से जीती थी, बेटी ने 5 हजार से जीतकर बीजेपी की लाज और नेताओं की कुर्सी बचाई
पांचवां माैका रहा जब बीजेपी ने इस सीट पर कब्जा जमाया है। कांग्रेस ने इस सीट काे जीतने के लिए काेई कमी नहीं छाेड़ी थी और डेढ़ साै कराेड़ रुपए की याेजनाएं देकर चाैकाया था। ये ही वजह रही कि यहां पर कुछ हद तक कमजाेर हुई। जहां दीप्ति की मां किरण माहेश्वरी ने पिछली बार कांग्रेस प्रत्याशी काे 24 हजार 623 वाेटाे से हराया था।

वहीं बेटी ने तनसुख बाेहरा काे केवल 5310 वाेटाे से हराया है। दीप्ति का वाेट प्रतिशत 49.74 रहा वहीं तनसुख बाेहरा ने भी कड़ी टक्कर देते हुए 46.21 प्रतिशत वाेट हासिल किए। माना जा रहा है कि अगर आरएलपी दूसरी जगहाें की तुलना में थाेड़ा -बहुत ठीक प्रदर्शन करती ताे ये सीट भी कांग्रेस के खाते में जा सकती थी। यहां पर आरएलपी प्रत्याशी काे सिरे से खारिज हाेने का फायदा बीजेपी काे मिल गया।

वसुंधरा राजे सरकार के समय हुए उपचुनावाें की तुलना में गहलाेत के कार्यकाल की परफॉर्मेंस बेहतर रही
वसुंधरा राजे सरकार के समय आठ उप चुनाव हुए थे। उनमें से दाे चुनाव बीजेपी ने जीते थे। वहीं कांग्रेस ने छह जीते थे। इन ढाई वर्षाें में पांच विधानसभाओं में उपचुनाव हुए हैं। इनमें से कांग्रेस ने तीन, बीजेपी ने एक और आरएलपी ने एक जीता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें