जयपुर में 20 फीट गड्‌ढे में दबा मजदूर:निर्माणाधीन मकान में पिलर लगाने के लिए चल रही थी खुदाई, चार घंटे रेस्क्यू के बाद भी मजदूर का पता नहीं चला

जयपुर2 महीने पहले
ब्रह्मपुरी रोड पर निर्माणाधीन मकान में मिट्‌टी के ढहने से एक व्यक्ति के दबने पर बचाव राहत में जुटी जेसीबी। रात तक उसे बाहर नहीं निकाला जा सका।

शहर में ब्रह्मपुरी रोड पर गुरूवार शाम करीब 4 बजे एक निर्माणीधीन मकान में पिलर भराई के लिए खुदाई के वक्त मिट्‌टी ढह गई। हादसे में एक मजदूर करीब 20 फीट गहरे गड्‌ढे में मिट्‌टी के नीचे दब गया। सिविल डिफेंस की रेस्क्यू टीम घटनास्थल पर पहुंची। तब जेसीबी की मदद से मिट्‌टी को हटवाने का काम शुरु हुआ। लेकिन रात 8 बजे तक रेस्क्यू टीम मजदूर को बाहर नहीं निकाल सकी। अंधेरा होने से रेस्क्यू बंद करना पड़ा। घटना का पता चलने पर नाहरगढ़ थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। वहां काफी तमाशबीन इकट्‌ठा हो गए। इससे ट्रेफिक भी बाधित रहा। नाहरगढ़ थाना पुलिस के अनुसार लंगर के बालाजी के पास ब्रह्मपुरी रोड पर एक खाली प्लॉट में निर्माण के लिए पिलर बनाने के लिए खुदाई का काम चल रहा था।

निर्माणाधीन मकान में इस जगह पर व्यक्ति के दबे होने की आशंका है
निर्माणाधीन मकान में इस जगह पर व्यक्ति के दबे होने की आशंका है

शाम करीब पौने चार बजे अचानक मिट्‌टी ढह गई। इससे वहां अफरा-तफरी का माहौल हो गया। तब हादसे की सूचना पर नाहरगढ़ थानाप्रभारी देवेंद्र कुमार और पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचा। वहां काम कर रहे मजदूरों का कहना था कि मलबे में एक मजदूर हनुमान पंचोली (40) फंस गया है। इस पर सिविल डिफेंस की रेस्क्यू टीम को भी बुलवाया गया। तब बचाव कार्य शुरु हुआ।

पुलिस के मुताबिक हनुमान पंचोली जयपुर में जमवारामगढ़ तहसील में आंधी के समीप विरासना गांव के रहने वाले थे। जबकि उनके साथ काम कर रहे दो मजदूरों को बाहर निकाल लिया गया। उनके भी चोटें आई है। इनमें एक मजदूर का नाम विनोद स्वामी है। वह भी हनुमान के गांव का ही है। दूसरा मजदूर रामेश्वर बैरवा है। यह मकान सुंदरदास का बताया जा रहा है। लोगों का कहना था कि पिलर डालने के लिए मिट्‌टी की खुदाई चल रही थी। जिसमें बचाव के लिए कोई उपकरण नहीं लगाए गए थे।