• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In Jaipur, Youths Demonstrated Against The Government Wearing Handcuffs, Said There Was No Fair Investigation; So There Will Be A Fierce Movement Across The State

REET, SI और JEN भर्ती परीक्षा का विरोध जारी:जयपुर में युवाओं ने हथकड़ी पहन सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन, बोले- निष्पक्ष जांच नहीं हुई; तो प्रदेशभर में होगा उग्र आंदोलन

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाथो में हथकड़ी पहन विरोध करते छात्र। - Dainik Bhaskar
हाथो में हथकड़ी पहन विरोध करते छात्र।

राजस्थान में हुई रीट, पुलिस सब इंस्पेक्टर और JEN भर्ती परीक्षा में हुई धांधली को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को जयपुर में ABVP छात्रों ने भर्ती परीक्षा में धांधली के खिलाफ राजस्थान विश्वविद्यालय में प्रदर्शन किया। इस दौरान कुछ छात्रों ने हाथों में हथकड़ी पहन अभ्यार्थियों के खिलाफ हुई कार्रवाई का विरोध जताया। वहीं कुछ छात्रों ने फावड़ा-गेती से दिहाड़ी मजदूरी कर अपनी बेरोजगारी का हवाला दिया। ताकि सरकार छात्रों की समस्या का जल्द समाधान करें।

ABVP ने सरकार के खिलाफ जयपुर में किया प्रदर्शन।
ABVP ने सरकार के खिलाफ जयपुर में किया प्रदर्शन।

ABVP के प्रदेश मंत्री हुशियार मीणा ने बताया कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। प्रदेश में रीट से लेकर RAS भर्ती परीक्षा तक सब में धांधली हो रही है। शिक्षा मंत्री धांधली कर अपने चहेतों को नौकरियां बांट रहे हैं। जबकि पढ़े लिखे युवा बेरोजगार घूम रहे हैं। ऐसे में आज युवाओं ने मजदूरी कर भीख मांग अपनी पीड़ा बताई है। ताकि सरकार भर्ती परीक्षा में हुई धांधली की निष्पक्ष जांच कराने के साथ ही बेरोजगारों को न्याय दिलाएं। मीणा ने कहा की अगर सरकार ने समय रहते युवाओं की मांग नहीं मानी। तो AVBP प्रदेशभर में उग्र आंदोलन करेगी जिसके लिए सिर्फ़ सकरार जिम्मेदार होगी।

बता दें कि राजस्थान में रीट, पुलिस सब इंस्पेक्टर और JEN परीक्षा में हुई धांधली के बाद सरकार अब तक 20 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं कुछ लोगों के खिलाफ लगातार छापेमारी कार्रवाई जारी है। ऐसे में जहां आम छात्र, बेरोजगार और विपक्ष सरकार से फिर नए सिरे से भर्ती परीक्षा आयोजित करने की मांग कर रहा है। वहीं सरकार इस पूरे मामले पर विपक्ष के रवैए को गैर जिम्मेदाराना बता रही है।

खबरें और भी हैं...