पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In Rajasthan Additional SP Satyapal Middha Suspended In Bribe Case Of Rs 2 Crore In ADG's Name In Jaipur Sog, Now Posted In Delhi RAC

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस महकमे में भ्रष्टाचार:एडीजी के नाम पर दो करोड़ रुपए की रिश्वत मांगने के आरोपों से घिरे एडिशनल एसपी निलंबित, दिल्ली में पदस्थापित थे

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पांच महीने पहले एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा जयपुर स्थित एसओजी विंग में पदस्थापित थे। रिश्वत के आरोपों से घिरने पर उनका तबादला दिल्ली में आरएसी में कर दिया गया था। - Dainik Bhaskar
पांच महीने पहले एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा जयपुर स्थित एसओजी विंग में पदस्थापित थे। रिश्वत के आरोपों से घिरने पर उनका तबादला दिल्ली में आरएसी में कर दिया गया था।
  • पांच महिने पहले जांच बंद करने और एफआईआर दर्ज नहीं करने की एवज में मांगी थी रिश्वत
  • एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा व पुलिस इंस्पेक्टर विष्णु खत्री सहित अन्य पर लगे थे आरोप

प्रदेश में एसओजी-एटीएस के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अनिल पालीवाल के नाम पर दो करोड़ रुपए की रिश्वत मांगने के आरोपों से घिरे एडिशनल एसपी सत्यपाल मिड्‌ढा को सोमवार को निलंबित कर दिया गया। इस संबंध में प्रदेश के गृह विभाग ने एक आदेश जारी किया। फिलहाल एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा नई दिल्ली में गाजीपुर स्थित आरएसी के आठवीं बटालियन में डिप्टी कमांडेंट के पद पर पदस्थापित है। निलंबन काल में अब एएसपी मिड्‌ढा डीजीपी कार्यालय में हाजिरी देंगे।

आदेशों में बताया गया है कि एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो, जयपुर में एसीबी के मुकदमा संख्या 108/2020 के अंतर्गत धारा 7, 7ए भ्रष्टाचार निवारण, (संसोधित) अधिनियम 2018 एवं धारा 120 बी आईपीसी के अंतर्गत केस दर्ज हुआ था। इस मामले में राज्य सरकार ने तत्काल प्रभाव से एडिशनल एसपी सत्यपाल मिड्‌ढा को निलंबित करने के आदेश जारी किए।

क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी के संचालक से मांगी गई थी रिश्वत

जानकारी के अनुसार पांच महीने पहले यह मामला सामने आया था। जिसमें क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी के संचालकों से रिश्वत में मोटी रकम मांगने का मामला भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) मुख्यालय तक पहुंचा था। तब एसीबी शिकायत के सत्यापन के दौरान सामने आया कि एडिशनल एसपी सत्यपाल मिड्‌डा ने तब एसओजी के एडीजी अनिल पालीवाल के नाम पर मांगी गई रिश्वत में पहली किश्त के रूप में 30 लाख रूपए मांगे है।

जांच बंद करने और एफआईआर दर्ज नहीं करने की एवज में मांगे दो करोड़ रूपए

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार इस संबंध में परिवादी ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई कि उनकी एक क्रेडिटी कॉपरेटिव सोसायटी है। यह सोसायटी अपने सदस्यों से डिपोजिट लेने और ऋण देने का काम करती है। सोसायटी के खिलाफ एक शिकायत की जांच एसओजी में पुलिस इंस्पेक्टर विष्णु खत्री एवं एडिशनल एसपी सत्यपाल मिड्‌डा द्वारा की जा रही थी।

जिसमें इन दोनों अनुसंधान अधिकारी पुलिसकर्मियों द्वारा शिकायत की जांच समाप्त करने और एफआईआर दर्ज नहीं करने की एवज में अपने लिए और अपने उच्चाधिकारियों के लिए दो करोड़ रूपए रिश्वत की रकम की मांग की गई। इसमें पहली किश्त 30 लाख रूपए मांगी गई। तब एसीबी ने शिकायत का सत्यापन किया गया।

जिसमें माना गया कि एएसपी सत्यपाल मिड्‌ढा द्वारा एडीजी अनिल पालीवाल के नाम से रिश्वत मांगी गई है। तब एसीबी ने केस दर्ज कर लिया। इस मामले के सामने आने से पहले ही आईपीसी की तबादला सूची जारी हो गई। जिसमें एसओजी के एडीजी अनिल पालीवाल का तबादला एडीजी कार्मिक, पुलिस मुख्यालय के पद पर कर दिया गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser