पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सोशल डिस्टेंसिंग ही है वैक्सीन:रामगंज में एक ही व्यक्ति ने 408 लोगों में बांटा कोरोना, जयपुर में मरीजों की संख्या 453 तक पहुंची

जयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में सेंटर फाॅर सस्टेनबिलिटी के प्राे. एसके सिंह, डाॅ. श्रुति कांगा और डाॅ. सुधांशु ने ऐसा जियाेलाॅजिकल माॅडल तैयार किया है जिससे रामगंज जैसे हॉटस्पॉट में 21 दिन में संक्रमण खत्म किया जा सकता है। - Dainik Bhaskar
जयपुर में सेंटर फाॅर सस्टेनबिलिटी के प्राे. एसके सिंह, डाॅ. श्रुति कांगा और डाॅ. सुधांशु ने ऐसा जियाेलाॅजिकल माॅडल तैयार किया है जिससे रामगंज जैसे हॉटस्पॉट में 21 दिन में संक्रमण खत्म किया जा सकता है।
  • रामगंज देश में सर्वाधिक प्रभावित इलाका बना, अब किसी को बाहर जाने की इजाजत नहीं
  • जयपुर का दूसरा सबसे प्रभावित इलाका है जमात क्षेत्र, यहां से 23 पॉजिटिव सामने आए

जयपुर का रामगंज यहां सिर्फ एक व्यक्ति ने सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज करके 408 लोगों को संक्रमित किया। हालात ये हैं कि पूरे जयपुर में जहां मरीजों की संख्या 453 तक पहुंची है, वहीं अकेले रामगंज में ही आंकड़ा 409 हो गया है। नतीजा ये कि रामगंज देश में कोरोना का सर्वाधिक प्रभावित इलाका बन चुका है। जयपुर का दूसरा सबसे प्रभावित इलाका है जमात क्षेत्र, जहां 23 केस आए हैं। इसके बाद एमडी रोड से 15 रोगी मिले हैं। बता दें कि पूरे राजस्थान में रोगियों की संख्या 1005 हो गई है।

दावा; रामगंज से 21 दिन में खत्म हो सकता है कोरोना

जयपुर में सेंटर फाॅर सस्टेनबिलिटी के प्राे. एसके सिंह, डाॅ. श्रुति कांगा और डाॅ. सुधांशु ने ऐसा जियाेलाॅजिकल माॅडल तैयार किया है जिससे रामगंज जैसे हॉटस्पॉट में 21 दिन में संक्रमण खत्म किया जा सकता है। विशेषज्ञाें का दावा है कि चीन के वुहान शहर में जियाेग्राफिकल इन्फाेर्मेशन टेक्नाेलाॅजी के जरिए ही हाॅटस्पाॅट की मैपिंग कर काेराेना संक्रमण पर काबू किया गया।

सख्ती; इन 4 फाॅर्मूलों से काबू करने की तैयारी है 

1. बीएलओ को घर-घर राशन बांटने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। 2. गली-गली में जनता सैनिक तैनात किए गए हैं, जो सर्वे करने वाली मेडिकल टीम की मदद कर रहे हैं। 3. अब यहां से कोई सरकारी नौकरी वाला भी बाहर नहीं जा सकेगा। 4. संदिग्ध सरकारी सेंटर्स में नहीं जाना चाहते, इसलिए उन्हें होम क्वारेन्टाइन किया जा रहा है। 

खबरें और भी हैं...