• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In The Festival Of 1500 Astrologers, A Detailed Discussion Was Held With The Residents Of Jaipur On Gems And Architecture Planets.

छोटी काशी में रत्नों की जीवन में महत्व पर बात:1500 ज्योतिषियों के महोत्सव में जयपुरवासियों के साथ हुई को रत्न-वास्तु ग्रहों पर विस्तार से चर्चा

जयपुर3 महीने पहले
छोटी काशी जयपुर में दिखा 1500 ज्योतिषियों का ज्योतिष रत्नमय महोत्सव-2022 महा कुंभ

वैवाहिक जीवन में परेशानी, बिजनेस में परेशानी या फिर मकान में वास्तु दोष। इन सभी पर जयपुर के मंच में चर्चा की गई और इन परेशानियों को दूर करने के उपाय देश के टॉप विशेषज्ञों ने अपने-अपने तरीकों से बताएं। साइंटिफिक तरीकों को जयपुर वालों ने अपनाया और विशेषज्ञों से सवाल जवाब किए। मौका था गुलाबी नगरी में पहली बार आयोजित किए गए 1500 ज्योतिषियों के महोत्सव का।

बॉलीवुड अभिनेता राजा मुराद ने दीपक प्रज्वलन के साथ महोत्सव का किया शुभारंभ
बॉलीवुड अभिनेता राजा मुराद ने दीपक प्रज्वलन के साथ महोत्सव का किया शुभारंभ
बॉलीवुड एक्टर रजा मुराद ने श्री राम के नारे लगाए और राम वे गणेश को जीवन में बहुत महत्वपूर्ण बताया, वही रतन, वास्तु और ग्रहों पर विस्तार से चर्चा भी की
बॉलीवुड एक्टर रजा मुराद ने श्री राम के नारे लगाए और राम वे गणेश को जीवन में बहुत महत्वपूर्ण बताया, वही रतन, वास्तु और ग्रहों पर विस्तार से चर्चा भी की
पूरे इंडिया से 1500 ज्योतिषियों ने इस ज्योतिष रत्नमय महोत्सव-2022 में लिया हिस्सा
पूरे इंडिया से 1500 ज्योतिषियों ने इस ज्योतिष रत्नमय महोत्सव-2022 में लिया हिस्सा

इस दौरान आचार्य अनुपम जोली, सुरेश श्रीमाली, पंडित रमेश भोजराज द्विवेदी, डॉ इंदु प्रकाश, एचएस रावत, पंडित जय प्रकाश लाल धागे वाले, पंडित जयंत पांडे, अरुण बंसल, आभा बंसल, शिव अग्रवाल, बालमुकुंद आचार्य, काले हनुमानजी के महंत गोपाल दास, आयोजक आशीष लोहिया और गजेंद्र लोहिया के साथ पीपीएस राणा उपस्थित रहे। वहीं चीफ गेस्ट बॉलीवुड एक्टर रजा मुराद ने संबोधित किया।

लोग यहां प्रशन कुंडली, और हाथ दिखाकर अपना भविष्य और प्रॉबलम के उपाय जानते नजर आए
लोग यहां प्रशन कुंडली, और हाथ दिखाकर अपना भविष्य और प्रॉबलम के उपाय जानते नजर आए

बिरला ऑडिटोरियम में रविवार सुबह 10 बजे से ज्योतिष रत्नमय महोत्सव-2022 का आयोजन किया गया। इस दौरान बॉलीवुड के वर्सेटाइल एक्टर रजा मुराद ने ज्योतिष का अपने जीवन में बड़ा महत्व बताया। वहीं राजस्थान के मंत्री महेश जोशी ने अपने ज्योतिष प्रेम के बारे में बात की।

इस महोत्सव में ज्योतिष शास्त्र को जानने और अपने प्रॉबलम के उपाय के लिए पूरा जयपुर उमड़ पड़ा
इस महोत्सव में ज्योतिष शास्त्र को जानने और अपने प्रॉबलम के उपाय के लिए पूरा जयपुर उमड़ पड़ा

मेरी फिल्मों में राम का आशीर्वाद: रजा मुराद ने बताया, कि उनके जीवन में भगवान राम और गणेश का बहुत महत्व है। क्योंकि जब 14 साल तक उनको फिल्मों में काम नहीं मिला था तो उसके बाद जो पहली फिल्म मिली वह राम के नाम से सज्जित थी। उसके बाद कई फिल्में लगातार मिली। ऐसे ही पिछले दिनों उनके घर में पपीते के पेड़ में गणेशजी के आकार का पपीता मिला, जिसे उन्होंने विधिवत रूप से समंदर में विसर्जित किया और उस दिन के बाद से अभी तक उनके पास लगातार काम आ रहा है। इस प्रकार उन्होंने अपनी आस्था को जयपुर के मंच से बयां किया। साथ ही साथ उन्होंने जयपुर के ज्योतिषियों और उनकी सटीक बातों की तारीफ करते हुए कहा, कि ज्योतिष एक साइंस है, जिसे हर वर्ग के लोगों को मानना चाहिए।

सिर्फ ग्रह नक्षत्र ही नहीं सिग्नेचर के लिए भी ज्योतिष में दी रत्नों की जानकारी
सिर्फ ग्रह नक्षत्र ही नहीं सिग्नेचर के लिए भी ज्योतिष में दी रत्नों की जानकारी

लाइव डेमो से की वास्तु की बातें: वास्तु एक्सपर्ट जयंत पंड्या ने वास्तु की बारीकियों पर बात की। उन्होंने स्क्रीन पर मकान के प्लान को दर्शाते हुए लाइव वास्तु की जानकारी दी। पांडे ने कहा, कि किचन में काला पत्थर लगाना उचित नहीं होता है, जबकि हिंदुस्तान में अधिकतम रसोई घर में काला पत्थर लगा मिलता है, जो सही नहीं है। इसी प्रकार उन्होंने सिग्नेचर (हस्ताक्षर) को भी महत्वपूर्ण बताया और अलग-अलग सिग्नेचर को स्क्रीन पर दिखा कर उनकी खासियत बताई। सिग्नेचर से किस प्रकार किसी इंसान की पर्सनैलिटी और व्यापार अप-डाउन हो सकता है, यह उन्होंने साइंटिफिक तरीके से दर्शाया।

प्रोग्राम के एंड में 15 विश्व प्रसिद्ध ज्योतिषीयों ने किया टॉक शो
प्रोग्राम के एंड में 15 विश्व प्रसिद्ध ज्योतिषीयों ने किया टॉक शो

इसी प्रकार डॉक्टर अरुण बंसल ने रत्नों का महत्व जीवन में बताया और अलग-अलग रत्नों की जानकारी दी। उन्होंने बताया, कि किस रत्न को किस प्रकार उपयोग में लाना चाहिए। वहीं टॉक शो के दौरान मंच संचालन कर रही आभा ने पति-पत्नी के रिश्तों पर विशेषज्ञों को बोलने के लिए आमंत्रित किया। इस मौके पर विशेषज्ञों ने रत्नों और ग्रहों से कई उपाए बताए तो किसी ने पत्नी को सर्वोपरी मानते हुए उनकी रिस्पेक्ट करने की सलाह मात्र से हर कलह से दूर रहने के उपाए सुझाए।

खबरें और भी हैं...