• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In The Last PTI Recruitment, 23 Thousand Applications This Time 56 Thousand, 33 Thousand Increased In 4 Years, The Board Said – If The Documents Are Fake Then Action

फर्जी डिग्रीधारियों के आवेदन:पिछली पीटीआई भर्ती में 23 हजार आवेदन इस बार 56 हजार, 4 साल में 33 हजार बढ़े, बोर्ड ने कहा- दस्तावेज फर्जी तो कार्रवाई

जयपुर6 महीने पहलेलेखक: विनोद मित्तल
  • कॉपी लिंक
आवेदकों की संख्या में पिछली भर्ती के मुकाबले दो गुणा से अधिक की बढ़ोतरी। - Dainik Bhaskar
आवेदकों की संख्या में पिछली भर्ती के मुकाबले दो गुणा से अधिक की बढ़ोतरी।

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से आयोजित हो रही पीटीआई ग्रेड थर्ड के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। आवेदकों की संख्या में पिछली भर्ती के मुकाबले दो गुणा से अधिक की बढ़ोतरी को देखते हुए इस भर्ती में कई फर्जी डिग्रीधारियों के आवेदन करने की संभावना जताई जा रही है।

इस भर्ती के लिए 56997 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है, जबकि बोर्ड की ओर से 2018 में हुई भर्ती में महज 23819 अभ्यर्थियों ने ही आवेदन किया था। इस बार 33178 आवेदक बढ़ गए। प्रदेश में इतनी तो सीटें ही नहीं है। पिछली भर्ती 4500 पदों पर हुई थी। इन पदों पर नियुक्ति के बाद पीटीआई भर्ती के योग्य आवेदकों की संख्या 19 हजार से अधिक रह जाती है।

1 पद के लिए 10 अभ्यर्थियों के बीच मुकाबला
आवेदकों की संख्या को देखें तो इस भर्ती में एक पद के लिए औसतन करीब 10 अभ्यर्थियों के बीच मुकाबला होगा। बोर्ड ने आवेदन की अंतिम तिथि निकलने के बाद अब भर्ती परीक्षा की तैयारी प्रारंभ कर दी है। इस भर्ती की परीक्षा 25 सितंबर को आयोजित की जाएगी।

12 ट्रांसजेंडर भी पीटीआई बनने की दौड़ में
इस भर्ती में 12 ट्रांसजेंडर भी पीटीआई बनने की दौड़ में शामिल हैं। इन अभ्यर्थियों ने महिला-पुरुष की बजाय अन्य केटेगरी से आवेदन किया है। इन आवेदकों में सामान्य केटेगरी से 7, एसटी से 2, एमबीसी, ओबीसी, एससी से 1-1 अभ्यर्थी है।

किस कैटेगरी के कितने आवेदसामान्य22822
ईडब्ल्यूएस 3672
एसटी 6037
एमबीसी 1964
ओबीसी 18287
एससी 4215
कुल 56997 आए

शारीरिक शिक्षा अध्यापक सीधी भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की जांच की जाएगी। किसी भी अभ्यर्थी की फर्जी डिग्री पाई जाती है तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सख्त कार्रवाई की जाएगी। -हरि प्रसाद शर्मा, अध्यक्ष, राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड

आवेदकों की संख्या में दो गुणा से अधिक की बढ़ोतरी होना साफ जाहिर करता है कि बाहरी राज्यों से कई अभ्यर्थी फर्जी डिग्री लेकर आए हैं। बोर्ड को चाहिए कि बाहर से डिग्री लाने वालों की सख्ती जा से जांच करें। फर्जी पाए जाने पर कार्रवाई करे। -उपेन यादव, अध्यक्ष, राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ

खबरें और भी हैं...