महंगाई हटाओ रैली:टोंक में मंत्री की कार को पैराटीचर्स ने घेरा, नागौर में कांग्रेसी बोले-पुलिस बना रही निशाना

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टोंक में सोमवार को सर्किट हाउस में मंत्री सालेह मोहम्मद को घेरे हुए पैराटीचर्स व संविदाकर्मी। - Dainik Bhaskar
टोंक में सोमवार को सर्किट हाउस में मंत्री सालेह मोहम्मद को घेरे हुए पैराटीचर्स व संविदाकर्मी।

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस की 12 दिसंबर को जयपुर में प्रस्तावित रैली को लेकर जिलों में पहुंचने वाले प्रभारी मंत्रियों को अपनों के ही विरोध का सामना करना पड़ा। रैली में भीड़ जुटाने के लिए 30 प्रभारी मंत्रियों को 33 जिलों में भेजा गया था। इसी दौरान सोमवार को टोंक में मंत्री सालेह मोहम्मद की कार को पैराटीचर्स ने घेर लिया। वे पुलिस बल से धक्का-मुक्की, प्रदर्शन कर स्थायीकरण की मांग कर रहे थे।

उधर, नागौर में प्रभारी मंत्री राजेंद्र सिंह यादव को खींवसर में स्थानीय पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की नाराजगी और गुस्से का सामना करना पड़ा। कांग्रेस नेता पूसाराम आचार्य ने यहां तक कह डाला कि कांग्रेस राज होने के बावजूद खींवसर में कांग्रेसियों को पुलिस चुन-चुन कर निशाना बना रही है। प्रतापगढ़ में तो रविवार को पार्टी कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए और उनमें जमकर लात-घूंसे चले। इस बीच प्रदेश प्रभारी अजय माकन मंगलवार को मंत्रियों से उनके प्रभार वाले जिलों का फीटबैक लेंगे।

कटारिया ने कहा-रैली में बीकानेर से सबसे ज्यादा लोग होने चाहिए
बीकानेर के प्रभारी मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा कि कांग्रेस रैली में बीकानेर का प्रजेंटेशन शानदार होगा। यहां से तीन मंत्री है, इसलिए जिम्मेदारी भी ज्यादा है। ऐसे में रैली में सबसे ज्यादा कार्यकर्ता भी बीकानेर से ही होने चाहिए।

रमेश मीणा बोले-न मैं पायलट गुट से हूं और न गहलोत गुट से
प्रभारी मंत्री के रूप में भरतपुर का दौरा करने पहुंचे कैबिनेट मंत्री रमेश मीणा ने पार्टी में गुटबाजी को लेकर बयान दिया। मीणा से पूछा गया की भरतपुर जिले के कई विधायक उनके साथ नहीं दिखे तो उन्होंने कहा की कांग्रेस में कोई गुट नहीं। मैं न पायलट गुट से हूं न अशोक गहलोत ग्रुप से हूं। मैं सिर्फ कांग्रेस का हूं। हम जो भी काम करेंगे वह अशोक गहलोत के निर्देश में करेंगे हम सभी कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ही सरकार बनाई है।

ममता भूपेश ने कहा-झुंझुनूं की बेटी हूं, मेरी लाज रखना
पहली बार झुंझुनूं आई जिले की प्रभारी मंत्री ममता भूपेश ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से रैली में शामिल हाेने के लिए भावुक अपील की। उन्हाेंने कहा कि बेटी शादी हाेकर भले ही पराई हाे जाए, लेकिन मन पीहर में रहता है। सीएम ने झुंझुनूं का प्रभारी मंत्री बनाकर भेजा है। आपकी बेटी की लाज रखना आपका काम है। जिले काे अग्रिम पंक्ति में लाना मकसद है। जाे भी जनसमस्याएं है वे उन्हें बताए।

खबरें और भी हैं...