पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In Udaipur Infection Is Fastest, 30 Out Of Every 100 People Are Corona Positive; 22 People Are Infected In Kota And 15 In Jodhpur Corona Latest Updates Rajasthan

राजस्थान में कोरोना:प्रदेश में वैक्सीन का संकट गहराया; आज 4 लाख डोज आई, लेकिन यह सिर्फ एक दिन के लिए हो पाएगी

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में रात 8 बजे से नाइट कर्फ्यू शुरू होते ही सख्ती बढ़ा दी गई। - Dainik Bhaskar
जयपुर में रात 8 बजे से नाइट कर्फ्यू शुरू होते ही सख्ती बढ़ा दी गई।

राजस्थान में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। कोरोना के बढ़ते ग्राफ ने सरकार की चिंताएं बढ़ा दी हैं। इस बार ग्रामीण इलाकों में कोरोना फैल रहा है। गुजरात से सटे जिलों के ग्रामीण इलाकों में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं।रविवार को मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से 30 फीसदी मौतें ग्रामीण इलाकों में हो रही हैं। दूसरी बड़ी चिंता वैक्सीन की कमी की है। केंद्र सरकार ने आज 4 लाख वैक्सीन की डोज भेजी है। लेकिन यह केवल एक दिन की ही डोज है। वैक्सीन की कमी को लेकर केंद्र से मांग भी की है। उधर, प्रदेश में वैक्सीन की कमी के कारण रविवार को करीब 60 फीसदी केंद्रों पर वैक्सीनेशन बंद था।

कोटा में हर 100 टेस्ट में 22 और जोधपुर में 15 लोग मिल रहे संक्रमित
राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू होती जा रही है। उदयपुर में संक्रमण बेहद तेजी से फैल रहा है। यहां 100 टेस्ट में से 30 लोग पॉजिटिव आ रहे हैं। यानी हर तीसरा व्यक्ति संक्रमित है। उदयपुर में कोविड-19 पेशेंट्स के लिए उपलब्ध 66% बेड्स फुल हो चुके हैं। इसके अलावा कोटा में कोरोना संक्रमण की दर 22%, जोधपुर में 15% और जयपुर में 8.8% है। राजस्थान में अब तक 3 लाख 85 हजार 688 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। यहां 2916 लोगों की मौत हो चुकी है।

रविवार को कोरोना का सबसे बड़ा आंकड़ा, 4401 केस
राजस्थान में रविवार को 24 घंटे में रिकॉर्ड 4401 कोरोना केस सामने आए। यह संक्रमितों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। चार जिलों जयपुर (657), जोधपुर (599), कोटा (599) और उदयपुर (527) में पहली बार 500 से ज्यादा पॉजिटिव केस मिले। बीकानेर में जिला कलेक्टर ने नाइट कर्फ्यू लगाने के आदेश जारी कर दिए हैं।

एक्टिव केस 28 हजार के करीब, 10 दिन में तीन गुना बढ़ोतरी
नए मरीज बढ़ने का सीधा असर एक्टिव केस पर भी पड़ा है। कोरोनाकाल में राज्य में एक्टिव केस पहली बार 28 हजार के करीब पहुंच गए। शनिवार तक प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 27,906 तक पहुंच गई थी। एक अप्रैल को एक्टिव मरीज 9563 थे। 10 दिन के भीतर ही ये 3 गुना से अधिक बढ़ गए। इस रफ्तार से एक्टिव केस बढ़ने के कारण अस्पतालों पर फिर दबाव आ गया है।

चिकित्सा मंत्री बोले- वैक्सीन की कमी है, हम रोज सात लाख लोगों को वैक्सीनेट कर सकते हैं

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा, हमारे पास एक लाख ही वैक्सीन की डोज बची है, आगे कैसे वेक्सीनेशन होगा। चार लाख से तो एक दिन ही काम चलेगा, एक दिन बाद फिर कमी हो जाएगी। भारत सरकार समय पर वैकसीन उपलब्ध नहीं करवा पा रही है। हमारी तो मांग है कि वैक्सीनेशन में उम्र सीमा की बाधा हटा देनी चाहिए। सभी का वैक्सीनेशन होना चाहिए।

आज 1 करोड़ टीके लगाने वाला पहला राज्य बनेगा राजस्थान
राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की संख्या भले ही तेजी से बढ़ रही हो, लेकिन यहां वैक्सीनेशन भी तेज हो गया है। प्रदेश में अब तक 98.72 लाख टीके लग चुके हैं। रविवार को यह आंकड़ा 1 करोड़ के पार हो जाएगा। दावा किया जा रहा है कि राजस्थान देश का ऐसा पहला राज्य होगा, जहां सबसे पहले 1 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। जानकारी के अनुसार, केंद्र की तरफ से आज राजस्थान में करीब 4 लाख डोज उपलब्ध करवाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...