पटवार भर्ती परीक्षा:अतिरिक्त ट्रेनें चलाने की बजाय रेलवे ने 14 ट्रेनें रद्द की व 12 ट्रेनों का रूट बदला

जयपुरएक महीने पहलेलेखक: शिवांग चतुर्वेदी
  • कॉपी लिंक
रद्द ट्रेनों पर नहीं लगाया कैंसिल और डायवर्जन का टैग। - Dainik Bhaskar
रद्द ट्रेनों पर नहीं लगाया कैंसिल और डायवर्जन का टैग।

राजस्थान में विभिन्न पदों पर भर्ती परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। एक तरफ सरकार बसों के अतिरिक्त फेरे संचालित कर रही है। वहीं रेलवे 23 और 24 अक्टूबर को होने वाली पटवार भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों के लिए अतिरिक्त ट्रेनें संचालित करने की बजाय बड़ी संख्या में ट्रेनों का संचालन रद्द कर रहा है और कई ट्रेनों को डायवर्ट रूट से संचालित कर रहा है, जो अभ्यर्थियों के ट्रेनों में सफर करने की राह में रोड़ा है।

वजह: डेगाना-फुलेरा सेक्शन के बीच ट्रैक का दोहरीकरण
दरअसल जोधपुर मंडल के डेगाना-फुलेरा सेक्शन के बीच ट्रैक का दोहरीकरण किया जा रहा है। डेगाना-बोरावड़ स्टेशनों के बीच 18 अक्टूबर से 9 नवंबर तक नॉन-इंटरलॉकिंग कार्य किया जाएगा। इसके चलते इस रूट पर मेगा ब्लॉक लिया गया है। ऐसे में जयपुर से फुलेरा होते हुए जोधपुर जाने वाली 10 ट्रेनों का संचालन पूर्ण रद्द, 4 ट्रेनों को आंशिक रद्द और 10 ट्रेनों का रूट डायवर्ट किया गया है। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस कार्य को परीक्षाओं का टाइम टेबल देखकर बाद में भी प्लान किया जा सकता था।

ट्रेन पर टैग ही नहीं लगा, इसलिए लग रहा है कैंसिलेशन चार्ज

रेल मामलों के जानकार और रिजर्वेशन एक्सपर्ट अजय कश्मीरी बताते हैं कि रेलवे द्वारा जब भी ट्रेनों को कैंसिल या डायवर्ट किया जाता है, तो संबंधित मंडल के वाणिज्य अधिकारियों द्वारा उस पर कैंसिलेशन और डायवर्जन का टैग लगाया जाता है। इस स्थिति में ट्रेनों के रद्द होने या डायवर्ट होने से संबंधित स्टेशन पर टिकट कैंसिल कराने पर कोई कैंसिलेशन चार्ज नहीं लगता। लेकिन इस बार ऐसा नहीं किए जाने से टिकट रद्द कराने पर यात्रियों से कैंसिलेशन चार्ज वसूल कर उन्हें आर्थिक नुकसान भी पहुंचाया जा रहा है।

उदाहरण- जयपुर के नितिन शर्मा ने हावड़ा-बीकानेर स्पेशल (02387) से 23 अक्टूबर का जयपुर से नागौर का रिजर्वेशन कराया। रेलवे ने इस ट्रेन का रूट बदल दिया, जिससे ट्रेन के रास्ते में नागौर पड़ ही नहीं रहा। ऐसे में उसे ट्रेन का टिकट रद्द कराकर बस से यात्रा करने को मजबूर होना पड़ा। जब उसने ऑनलाइन टिकट रद्द कराया, तो रेलवे ने 760 रुपए में से 260 रुपए कैंसिलेशन चार्ज के रूप में काट लिए। जब उसने पूछताछ की तो पता चला कि ट्रेन कागजों में रद्द है, लेकिन सिस्टम पर इसे रद्द नहीं किया गया है। इस वजह से कैंसिलेशन चार्ज लिया जाएगा।

कोटा-जयपुर के बीच एग्जाम स्पेशल

जयपुर, रेलवे द्वारा पटवारी परीक्षा को ध्यान में रखते हुए यात्रियों व परीक्षार्थियों की सुविधा हेतु कोटा-जयपुर-कोटा (2 ट्रिप) परीक्षा स्पेशल का संचालन किया जा रहा है। रेलवे के सीपीआरओ कैप्टन शशि किरण के अनुसार ट्रेन 09819 कोटा-जयपुर परीक्षा स्पेशल 23 और 24 अक्टूबर को कोटा से शाम 7:45 बजे रवाना होकर रात 11:55 बजे जयपुर पहुंचेगी। इसी प्रकार 09820 जयपुर-कोटा परीक्षा स्पेशल 24 और 25 अक्टूबर को जयपुर से देर रात 12:30 बजे रवाना होकर सुबह 6:10 बजे कोटा पहुंचेगी। ट्रेन लाखेरी, इंद्रगढ़ सुमेरगंज मंडी, सवाईमाधोपुर, वनस्थली निवाई व दुर्गापुरा स्टेशनों पर रूकेगी।

खबरें और भी हैं...