पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ट्रैकिंग में ‘फेल’ सरकार:बुजुर्गों के टीकाकरण में जयपुर 25वें नंबर पर; 60 साल से अधिक उम्र वालों का 14.17% और 45+ वालों में सिर्फ 20% का वैक्सीनेशन हुआ

जयपुरएक महीने पहलेलेखक: सुरेन्द्र स्वामी
  • कॉपी लिंक
कांवटिया में वैक्सीन लगाने वाले लोग अपनी बारी का इंतजार करते हुए। - Dainik Bhaskar
कांवटिया में वैक्सीन लगाने वाले लोग अपनी बारी का इंतजार करते हुए।
  • लापरवाही- किसे कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगी और किसे दूसरी डोज...स्वास्थ्य विभाग के पास लाइनिंग लिस्ट ही नहीं

बुजुर्गों में कोरोना वैक्सीनेशन का ग्राफ नहीं चढ़ रहा है। स्थित यह है कि टीकाकरण में जयपुर राजस्थान में 25वें नंबर पर है। पहले पर डूंगरपुर है। आंकड़ा कम होने से सरकार और अफसरों धड़कन बढ़ने लगी है। जयपुर में 60 साल से अधिक उम्र के लोगों में सिर्फ 14.17 फीसदी को ही टीका लगा है, जबकि डूंगरपुर में 52.88% बुजुर्गों को वैस्कीन लग चुका है।

दूसरी ओर, ऐसी ही स्थित जयपुर में 45 साल की उम्र के लोगों के टीकाकरण की है। इस आयु वर्ग में अभी 20 फीसदी लोगों के ही पहली डोज लग सकी है। मतदाता सूची के अनुसार 45 साल से अधिक उम्र के 20 लाख लोग हैं। इनमें से 4 लाख के ही वैक्सीनेशन हुआ है। प्रदेश भर में आंकड़ा 2.9 27% है।

ट्रैकिंग सिस्टम में ‘फेल’सरकार: पहली डोज जिन्हें लग चुकी है, लेकिन सेकेंड डोज नहीं लगी है। ये तो ड्राप आउट और अभी तक जिन बुजुर्गों को एक भी डोज नहीं लगी है, वे लेफ्ट आउट में शामिल हैं। सरकार के पास लाइनिंग लिस्ट ही उपलब्ध नहीं है। ऐसे में ट्रैंकिंग सिस्टम में सरकार फेल है। इधर, वैक्सीनेशन में शहर के मुकाबले गांवों में जागरूकता है जबकि कोरोना संक्रमण के मामले गांवों के मुकाबले शहर में अधिक है।

कम टीकाकरण के कारण
1. वैक्सीन लगने के बाद भी पॉजिटिव आने और किसी बड़े साइड इफेक्ट का डर।
2. जागरुकता अभियान कमजोर पड़ रहा है।
3. सामाजिक, धार्मिक, व्यापारिक, स्वंयसेवी संगठनों और जनप्रतिनिधियों के साथ जनआंदोलन नहीं शुरू किया गया है।
4. जनप्रतिनिधियों की सक्रियता नहीं है। पालिका और नगर निगम के हरेक वार्ड के पार्षदों के साथ बैठक कर क्षेत्र में रहने वाले बुजुर्गों को मोटिवेट नहीं किया जा रहा है।
5. चुनाव की तरह हर वार्ड में वैक्सीनेशन सेंटर की सुविधा उपलब्ध नहीं।

वैक्सीनेशन के लिए जागरूक कर रहे हैं
टीकाकरण का पहले की तुलना में ग्राफ बढ़ा है। जहां भी वैक्सीनेशन कमजोर है, वहां पर प्रेरित करने के लिए जागरुक किया जा रहा है।
-सिद्वार्थ महाजन, प्रमुख शासन सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य

एयरपाेर्ट, स्टेशन और बस स्टैंड में 17542 की जांच, 221 संक्रमित
राजधानी में संक्रमण राेकने के लिए बाहरी राज्यों से आने वाले लाेगाें की जिला प्रशासन व चिकित्सा विभाग की टीमाें ने काेराेना संक्रमण जांच भी शुरू कर दी। एयरपाेर्ट, रेलवे स्टेशन व सिंधी कैंप पर 22 दिन में 17.5 हजार की काेराेना जांच की गई। इसमें 221 लाेग संक्रमित मिले। मार्च तक 35 और अप्रेल में 186 केस आए। एडीएम चतुर्थ अशाेक कुमार का कहना है चिकित्सा विभाग की टीमें यात्रियाें की सैंपलिंग कर रही हैं।

स्टेशन पर 9878 लाेगाें की जांच हुई इसमें से 173 पाॅजीटिव आए। सिंधी कैंप बस स्टैंड पर 5973 में से 24 और एयरपाेर्ट पर 1691 लाेगाें की जांच में 24 संक्रमित पाए। मरीजाें के नाम-पते लेकर संबंधित सीएमएचओ, ब्लाक सीएमएचओ, और थानाें काे सूचना दी गई है। मरीजाें की प्रशासन निगरानी कर रहा है साथ ही परिजनाें काे पाबंद किया गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

    और पढ़ें