6 महीने बाद राजस्थान में कोरोना से 4 की मौत:6366 नए संक्रमित मिले, 14 जिलों में 100 से ज्यादा मरीज; जयपुर में कम हुए केस

जयपुर6 महीने पहले

राजस्थान में मंगलवार को कोरोना के 6366 नए केस मिले हैं, जबकि 4 मरीजों की मौत हुई है। इससे पहले प्रदेश में 4 जुलाई को एक साथ 4 मरीजों की मौत हुई थी। जयपुर सहित 14 जिलों में कोरोना के 100 या उससे ज्यादा केस मिले हैं। करीब 14 दिन के बाद आज ऐसा हुआ है, जब जयपुर में केस बढ़ने के बजाय कम आए हैं। पिछले 24 घंटे के अंदर जयपुर में 2166 नए केस मिले हैं, जो सोमवार की तुलना में 583 कम हैं।

राजस्थान मेडिकल हेल्थ डिपार्टमेंट से जारी रिपोर्ट के अनुसार, जयपुर के अलावा मंगलवार को जोधपुर में 711, कोटा 446, अलवर 411, उदयपुर 403, भरतपुर 365, बीकानेर 255, अजमेर 195, सीकर 192, बाड़मेर 124, गंगानगर 112, सवाई माधोपुर 114, भीलवाड़ा 108 और दौसा में 104 नए केस मिले हैं। वहीं जयपुर, नागौर, अजमेर और अलवर में एक-एक मरीज की मौत हुई है।

राजस्थान में अब तक 9 लाख 88 हजार 638 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 9 लाख 49,063 मरीज रिकवर हुए हैं। 8978 मरीजों की अब तक इस बीमारी से मौत हो चुकी है।

जयपुर में 15 जगहों पर 50 से ज्यादा केस
सीएमएचओ जयपुर से मिली रिपोर्ट के मुताबिक, जयपुर में 15 ऐसे एरिया हैं, जहां 50 से 100 के बीच केस मिले हैं। वैशाली नगर एरिया में सबसे ज्यादा 98 मरीज मिले हैं, जो सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बना है। इसके अलावा जवाहर नगर 91, झोटवाड़ा 90, विद्याधर नगर 89, प्रताप नगर 93, जगतपुर, बनीपार्क 80-80, मालवीय नगर 71, मानसरोवर 70, सांगानेर 59, सोडाला 81, टोंक रोड, बजाज नगर 50-50, सीतापुरा 62 और अजमेर रोड एरिया में 67 केस मिले हैं।

28 दिसंबर से लगातार बढ़ रहे हैं केस
जयपुर में पिछले साल 28 दिसंबर से लगातार केस बढ़ रहे हैं। 27 दिसंबर को जयपुर में 43 केस आए थे। यह बढ़ते-बढ़ते 2749 तक पहुंच गए थे। जयपुर में पिछले एक सप्ताह की रिपोर्ट देखें तो 13 हजार 262 केस मिल चुके हैं। 6 लोगों की मौत हो चुकी है। जयपुर में संक्रमण की दर भी अब 15 फीसदी के पार जा चुकी है। इसी वजह से यह जिला रेड जोन में है।

गांवों में कलेक्टर बंद कर सकते हैं स्कूल:शिक्षा मंत्री बोले- संक्रमण की रफ्तार कम नहीं हुई तो टाली जा सकती हैं बोर्ड परीक्षाएं

10 जिलों में लग सकती हैं लॉकडाउन जैसी पाबंंदियां:राजस्थान के जिन शहरों में 100 से ज्यादा मरीज, वहां कलेक्टर कर सकेंगे सख्ती