तस्वीरों में राजस्थान लॉकडाउन / हवामहल से गली मोहल्लों तक सभी जगह हो रही सैनेटाइज, बेजुबानों का भी ध्यान रख रहे लोग

हवामहल भी सैनेटाइज किया गया। हवामहल भी सैनेटाइज किया गया।
X
हवामहल भी सैनेटाइज किया गया।हवामहल भी सैनेटाइज किया गया।

  • सोडियम हाइपो क्लोराइड के घोल से सम्पूर्ण क्षेत्र को किया जा रहा डिसिनफेक्टेंट
  • पुलिस ने रिटेल शॉप मालिकों के साथ बैठक कर सामान की होम डिलेवरी की तैयारी की

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 05:40 PM IST

जयपुर. राजस्थान में 21 दिन के लॉकडाउन के दूसरे दिन भी राज्य में लोग जरूरत का सामान खरीदते नजर आए। वहीं, कुछ बेजुबान जानवरों और जरूरतमंदों की मदद करने भी पहुंचे। जहां गरीबों में खाने कै पैकेट बांटे गए। वहीं गायों को चारा डाला गया। वहीं पुलिस ने रिटेल शॉप मालिकों के घर पर होम डिलेवरी को सही ढंग से लागू करने के लिए मीटिंग की। वहीं कही सख्ती भी देखने के लिए मिली।

जयपुर के हवामहल विधानसभा क्षेत्र को भी सैनेटाइज किया गया। यहां मुख्य सचेतक डॉ महेश जोशी और निगम कमिश्नर वीपी सिंह दोनों खुद जगहों को सैनेटाइज कराने पहुंचे। सोडियम हाइपो क्लोराइड के घोल से सम्पूर्ण क्षेत्र को किया जा रहा डिसिनफेक्टेंट।

अलवर: बेजुबान जानवरों को पुलिस ने चारा डलवाया
अलवर की सड़कों पर घूमने वाले बेजुबान जानवरों की खाने पीने का संकट आ गया है। ऐसे में पहल करते हुए कोतवाली थानाधिकारी अध्यात्म गौतम द्वारा अपने थाना क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर पशुओं को हरा चारा डलवाया गया। वही खेड़ली थाना अधिकारी द्वारा ग्रामीण एरिया में पशुओं के लिए तूड़ी का प्रबंध किया गया। इसके बाद रोड पर जहां-जहां पशु नजर आए वहीं उन्हें चारा डाला गया। 

गायों का चारा डलवाया गया।

भरतपुर: पुलिस ने वाहन रोककर लोगों को पैदल सामान लाने भेजा
भरतपुर में 9:00 से 12:00 के बीच राशन का सामान लेने निकले लोगों के स्कूटर, बाइक पुलिस ने थाने में रखवा लिए। जिसके बाद सभी को पैदल ही सामान लेकर आने के लिए कहा गया। जब लोग सामान लेकर वापस आए तो उनके स्कूटर-बाइक वापस नहीं लौटाए गए। इस कारण लोग थाने के बाहर परेशान खड़े रहे।

पुलिस ने गाड़ी जब्त की।

चौमूं: बूंदाबांदी के बावजूद लोग खरीदारी करने पहुंचे
चौमूं के आसपास सुबह रुक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। इसके बावजूद लोग खाने का सामान लेने बाजार पहुंचे। यहां कुछ दुकानदारों ने लोगों को दूर रखने के लिए दुकान के बाहर निशान बना दिया। लोग भी उन्ही गोल निशानों में खड़े होकर खरीदारी करते नजर आए।

दुकानों के बाहर खड़े रहने के लिए निशान बनाए गए।

जयपुर: तमाम कंपनियां घर पहुंचाएंगी जरूरत का सामान
पुलिस की इस पहल के बाद तमाम कंपनियां घर-घर जाकर खाने के सामान की डिलेवरी देंगी। बताया जा रहा है कि 24 घंटे ये सुविधा उप्लब्ध करवाई जाएगी। जिससे बाजारों में भीड़ नहीं लगे। इसके साथ ठेलों के माध्यम से भी सब्जियां पहुंचाई जाएगी। वहीं गुरुवार को भी जयुपर के परकोटे इलाके में शहर के अन्य हिस्सों की तुलना में लॉकडाउन का असर कम नजर आया। 

बारां के छबड़ा कस्बे में सब्जी व्यवसायी ने ग्राहकों की दूरी बनाने के लिए बनाए गोल निशान।

झुंझुनू के बड़ागांव में एक घर के मैन गेट पर लगाया बोर्ड, इसमें लिखा है कि अगले 21 दिन कोई भी उनके घर नहीं आए। किसी को जरूरी काम हो तो फोन ही करें।

गली मोहल्ले किए जा रहे सैनेटाइज
जयपुर की गली , मोहल्लों और सड़कों को भी सैनेटाइज किया जा रहा है। नगर निगम की माउंटिंग मशीन और दमकल की गाड़ियों के जरिए सैनेटाइज की प्रोसेस की जा रही है। वहीं बाजार में खड़ी बाइकों की भी पुलिस ने हवा निकाल दी। बुधवार को हवा महल समेत कई पर्यटन स्थल भी सैनेटाइज किए गए।

भीलवाड़ा में खाने का पैकेट लेने के लिए लगी लाइन में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रखा गया।

डूंगरपुर में कोरोना वायरस से बचाव के लिए झोथरी की राशन की दूकान के बाहर एक मीटर की दूरी पर बनाए गोले।

राशन की दूकान के बाहर एक मीटर की दूरी पर बनाए गोले।

अजमेर: इसके साथ अजमेर प्रशासन ने खाद्य सामग्री की कालाबाजारी रोकने के लिए सभी किरना व्यापारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपनी दुकान पर मुल्य सूची लगाएं। जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने रसद अधिकारी को निर्देशित किया कि वे समस्त दुकानों पर सामान की मूल्य सूची प्रदर्शित करने के लिए दुकानदारों को पाबन्द करें। जिस दुकान पर मूल्य सूची प्रदर्शित नही की जाएगी तथा सामान का अधिक मूल्य पर विक्रय किया जाना पाया जाने पर संबंधित दुकानदार के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

भीलवाड़ा में मेडिकल शॉप।

जयसिंहपुरा में लॉकडाउन का मजाक बनाती पब्लिक। 

जयसिंहपुरा में लॉकडाउन

लोगों को भीड़ नहीं लगाने के लिए समझारी रही पुलिस।

लोगों से भीड़ न लगाने के लिए कहा।

मास्क लगाने पर ही मिलेगा सामान
पुलिस की सख्ती भी अब बढ़ती जा रही है। बुधवार को भी चौराहों पर तैनात पुलिस ने घरों से बाहर आए युवकों से पूछताछ की और उन्हें घर भेजा। वैशाली नगर में पुलिस ने दुकानदारों को हिदायत दी कि वह भीड़ न लगने दें। दुकान के बाहर खड़े लोगों से भी पुलिस ने दूर-दूर खड़े रहने के लिए कहा। पुलिसवालों ने दुकानदारों से कहा है कि दुकान के बाहर एक बोर्ड लगाएं, जिसमें बिना मास्क के सामान नहीं देने की बात लिखी हो।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना