प्रशासन शहरों के संग अभियान:जेडीए-निगम को गांधी जयंती पर बांटने हैं 15 हजार पट्‌टे लेकिन बांट सकेंगे 5908 ही, क्योंकि.....न तो प्रशासन की तैयारी पूरी और न ही आवेदन आए

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रशासन शहरों के संग अभियान के पहले दिन 2 अक्टूबर को जेडीए-निगम 15 हजार पट्टे बांटने का टारगेट पूरा नहीं कर पाएंगे। कारण यह है कि दोनों ही विभागों की तैयारी आधी-अधूरी है और पट्टा चाहने वाले को ऑनलाइन आवेदन की ऐसी जटिल प्रकिया से गुजरना पड़ रहा है, जिससे वे आवेदन ही नहीं कर पा रहे। जेडीए व दोनों निगमों में अभी तक 5908 लोगों ने ही पट्टे के लिए आवेदन किया है।

प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा पट्टे देने के लिए सरकार ने तमाम रियायतें दी हैं। गांधी जयंती के दिन से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस अभियान की शुरुआत करेंगे। जयपुर में सबसे ज्यादा 15 हजार पट्टे अभियान के पहले दिन देने का टारगेट रखा गया है। जेडीए को 10 हजार और दोनों नगर निगम ( ग्रेटर व हेरिटेज निगम) को 2500-2500 पट्टे बांटने हैं।

नियमानुसार आवासीय व व्यवसायिक को अलग-अलग रंग के पट्टे जारी होने हैं, लेकिन जेडीए जोनल ऑफिस में सादे रंग के पट्टे ही तैयार किए जा रहे हैं। दूसरी तरफ ग्रेटर निगम में पट्टा तैयार करने के लिए हाल ही में टेंडर किए गए हैं। तमाम प्रयासों के बाद भी ग्रेटर निगम पहले दिन 800 से ज्यादा पट्टे नहीं बांट पाएगा। ऐसे ही हालात हेरिटेज निगम के हैं।

हेरिटेज में 1400 और ग्रेटर में 508 आवेदन ही आए : हेरिटेज और ग्रेटर निगम की बात करें तो अभियान के पहले दिन 5 हजार पट्टे देने का लक्ष्य है। चारदीवारी क्षेत्र, कच्ची बस्ती के साथ ग्रेटर इलाके में जेडीए से ट्रांसफर हुई कॉलोनियों में पट्टे दिए जाने हैं, लेकिन हेरिटेज निगम में करीब 1400 आवेदन आ चुके हैं, जबकि ग्रेटर निगम में अभी तक केवल 508 आवेदन ही आए हैं।

जेडीए में 4 हजार आवेदन ही आए : जेडीए को अभियान के पहले दिन जयपुर में 10 हजार पट्टे बांटने का लक्ष्य मिला है, लेकिन अभी तक सिर्फ 4 हजार लोगों ने ही आवेदन किया है। जेडीए के लिए पहले दिन 50 फीसदी लक्ष्य भी हासिल करना मुश्किल लग रहा है।

खबरें और भी हैं...