लघु उद्योग योजना:काेराेनाकाल : नुकसान में रहे टूरिज्म से जुड़े लाेगाें काे मिलेगी 9% सब्सिडी

जयपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नुकसान झेलने वाले पर्यटन क्षेत्र के उद्यमियाें काे सरकार लाेन पर अब 8 की बजाय 9 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी देगी। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
नुकसान झेलने वाले पर्यटन क्षेत्र के उद्यमियाें काे सरकार लाेन पर अब 8 की बजाय 9 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी देगी। (फाइल फोटो)

काेराेना काल में पर्यटन उद्योग से जुड़े लाेगाें काे काफी नुकसान झेलना पड़ा है। ऐसे में नुकसान झेलने वाले पर्यटन क्षेत्र के उद्यमियाें काे सरकार लाेन पर अब 8 की बजाय 9 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी देगी। इस संशाेधन की वजह से प्रक्रिया में देरी भी हाे रही है। इससे पहले मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्राेत्साहन योजना में अब तक राज्य सरकार लघु उद्याेगाें के लिए 3 साल में 2484.87 कराेड़ रूपए का लाेन दे चुकी है। जिन्हें सब्सिडी भी दी जा रही है। लेकिन पर्यटन क्षेत्र के उद्यमियाें काे इसका लाभ मिलना अभी शुरू नही हुआ है।

हालांकि यह अप्रैल से शुरू हाेना था। इसके लिए सरकार ने उप योजना मुख्यमंत्री पर्यटन उद्योग संबल योजना की शुरूआत की थी। अब विभाग का कहना है कि पर्यटन से जुड़े व्यापारियाें काे मिलने वाला ब्याज सब्सिडी 8% से बढ़ाकर 9% कर दिया है। इस योजना में 25 लाख तक के लाेन के ब्याज पर पर्यटन उद्यमियाें काे 1 प्रतिशत का अतिरिक्त ब्याज सब्सिडी 3 साल के लिए देते हुए हर साल कुल 9 प्रतिशत ब्याज अनुदान दिया जाएगा।

उद्योग विभाग के अनुसार ताे उन्हाेंने फाइनेंस विभाग काे पत्रावली भेज रखी है। यह पर्यटन के उद्यमियाें काे 1 अप्रैल से 31 मार्च 2022 तक का दिया जाएगा। उद्योग विभाग के अधिकारियाें का कहना है कि अभी योजना की अधिसूचना जारी करने की प्रक्रिया प्रक्रियाधीन है।

3 साल में 2484.87 कराेड़ दिए
साल - इकाइयां - लाेन
2019-20 - 239 - 33.75 कराेड़
2020-21 - 8259 - 2016.13 कराेड़
2021- 22 - 913 - 434.99 कराेड़
(अक्टूबर तक)

खबरें और भी हैं...