• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Kataria Said If Our Candidate Is Changed In Vallabhnagar, There Has Been A Slight Change, Dhariyavad Will Win With A Good Margin, The Issue Of Maharana Pratap Will Not Work.

भाजपा नेता प्रतिपक्ष ने माना, वल्लभनगर में पार्टी कमजोर:कटारिया बोले- हमारा उम्मीदवार चेंज हुआ तो थोड़ा बदलाव आया है, धरियावद अच्छे अंतर से जीतेंगे

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुलाबचंद कटारिया (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
गुलाबचंद कटारिया (फाइल फोटो)

वल्लभनगर और धरियावद विधानसभा सीटों के उपचुनावों पर प्रचार गति पकड़ने के साथ ​नए सियासी समीकरण बन रहे हैं। बीजेपी ने दोनों सीटों पर नए चेहरे मैदान में उतारे हैं। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने वल्लभनगर में नया चेहरा उतारने से बदले समीकरणों में बीजेपी के कुछ कमजोर होने के संकेत दिए हैं। कटारिया ने भास्कर से कहा- धरियावद सीट हम अच्छे अंतर से जीतेंगे, धरियावद लंबे समय से पार्टी की मजबूत सीट है। वल्लभनगर में हमारा कैंडिडेट चेंज हुआ तो थोड़ा बदलाव आया है, कोशिश तो हो रही है। मैं वहां अब तक फील्ड में नहीं गया। वल्लभनगर में फील्ड में जाने के बाद ही बता पाऊंगा।

कटारिया ने धरियावद में भितरघात के सवाल पर कहा कि धरियावद में हमारा कोई बागी नहीं है। कन्हैयालाल खड़े रहते तो धरियावद में संशय रहता, लेकिन अब उनके नाम वापस लेने के बाद कोई संशय नहीं रह गया है। धरियावद में मैंने फील्ड में रहकर देखा है। वहां हम अच्छे अंतराल से सीट निकालेंगे।

महाराणा प्रताप पर दिया बयान पिछले उपचुनावों में ही मुद्दा नहीं बना, इस बार क्या बनेगा
महाराणा प्रताप पर दिए बयान से चुनाव में नुकसान होने के सवाल पर कटारिया ने कहा- कांग्रेस जिन मुद्दों की बात कर रही है, उन मुद्दों की पहले से ही हवा निकल गई है। कांग्रेस के लोगों को तो कुछ तो बोलना है, लेकिन वे बोलेंगे ही नहीं। महाराणा प्रताप वाले मुद्दे का जब पिछले उपचुनावों में ही असर नहीं हुआ तो इनमें कैसे होगा? राजसमंद के उपचुनावों में भी कांग्रेस ने महाराणा प्रताप को मुद्दा बनाने की कोशिश की। जब उन उपचुनावों में ही मुद्दा नहीं बना तो अब क्या बनेगा? राजसमंद में राजपूत बाहुल्य पंचायतों में बीजेपी को किरणजी के समय से ज्यादा वोट मिले, यह रिकॉर्ड पर है।

वल्लभनगर में कटारिया समर्थक को टिकट नहीं मिला
वल्लभनगर में गुलाबचंद कटारिया के समर्थक को टिकट नहीं मिला। यहां कटारिया समर्थक उदयलाल डांगी बीजेपी के दावेदार थे। यहां टिकट नहीं मिलने से नाराज उदयलाल डांगी बागी होकर हनुमान बेनीवाल की पार्टी आरएलपी से चुनाव लड़ रहे हैं। वल्लभनगर में उदयलाल डांगी ने बीजेपी के समीकरण बिगाड़ दिए हैं। कटारिया वल्लभनगर में समर्थक को टिकट नहीं दिला पाए, लेकिन धरियावद में बीजेपी उम्मीदवार खेत सिंह मीणा कटारिया के समर्थक हैं।

कटारिया के राम और महाराणा प्रताप पर विवादित बयान मुद्दे
कटारिया ने पिछले उपचुनाव में राजसमंद क्षेत्र में महाराणा प्रताप पर विवादित बयान दिया था। कटारिया ने हाल ही में एक और विवादित बयान दिया था। जिसमें कहा था कि बीजेपी नहीं होती तो भगवान राम समुद्र में होते। कांग्रेस इन दोनों बयानों को चुनावी मुद्दा बना रही है।

खबरें और भी हैं...