पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Kidnapping Case From Amer Jaipur, Kidnappers Threatening The Family Members And Demanded A Ransom Of Rs 24 Lakh, Police Saved Him From Delhi

18 घंटे में दिल्ली से दो किडनैपर गिरफ्तार:भाई को परीक्षा दिलवाने कूकस आए युवक का अपहरण, परिवार को धमकी देकर मांगी 24 लाख रुपए की फिरौती, पुलिस ने दिल्ली में युवक को चंगुल से छुड़ाया

जयपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तीन दिन पहले जयपुर के कूकस में युवक का अपहरण कर 24 लाख रुपए की फिरौती मांगने वाले दो आरोपियों को आमेर पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। - Dainik Bhaskar
तीन दिन पहले जयपुर के कूकस में युवक का अपहरण कर 24 लाख रुपए की फिरौती मांगने वाले दो आरोपियों को आमेर पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

कूकस में अपने ताऊ के लड़के को सवाईमाधोपुर से परीक्षा दिलवाने लेकर आए एक युवक का तीन बदमाशों ने अपहरण कर लिया। वे उसे आमेर से दिल्ली लेकर चले गए। इसके बाद अपहृत युवक के भाई को फोन कर अपहरण की सूचना दी और युवक को छोड़ने की एवज में 24 लाख रुपए फिरौती की मांग की।

यह वारदात 17 जुलाई को हुई। घटना के 18 घंटे के भीतर पुलिस ने तकनीकी पड़ताल कर अपहरणकर्ताओं का पीछा किया। इसके बाद दिल्ली पुलिस की मदद से अपहृत युवक को दिल्ली के संगम विहार से चंगुल से छुड़ा लिया। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। उनका एक साथी फरार है। बुधवार रात को पुलिस ने मामले का खुलासा किया।

राजमल मीणा का अपहरण कर मांगी गई 24 लाख रुपए की फिरौती
राजमल मीणा का अपहरण कर मांगी गई 24 लाख रुपए की फिरौती

17 जुलाई को कूकस में भाई को परीक्षा दिलवाने आया था

डीसीपी (नार्थ) ऋचा तोमर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी राजू मीणा (35) निवासी गांव रुंध सिरावास पुलिस थाना सदर जिला अलवर का रहने वाला है। दूसरा आरोपी हंसराज मीणा (19) निवासी गांव बंदमुजफर थाना विराटनगर जिला जयपुर ग्रामीण है। जबकि तीसरा आरोपी जितेंद्र फरार है।

इनके खिलाफ सवाईमाधोपुर जिले के सुरवाल तहसील में भगवतगढ़ इलाके में सिरोही गांव के रहने वाले हरिकेश मीणा ने 20 जुलाई को आमेर थाने में एक मुकदमा दर्ज करवाया था। जिसमें बताया कि उसका छोटा भाई राजमल मीणा 17 जुलाई को अपने ताऊजी के लड़के जीतू को परीक्षा दिलवाने जयपुर के आमेर कस्बे में कूकस लेकर आया था।

ढाबे पर बैठा था युवक, दो युवक आए, बातचीत के बहाने बाइक पर बैठाकर ले गए

एडिशनल डीसीपी सुमित गुप्ता ने बताया कि जीतू के परीक्षा केंद्र में जाने के बाद राजमल अपने परिचित खुशीराम, रामकेश व विनोद के साथ एक ढाबे पर जाकर बैठ गया। जब राजमल को उसके बड़े भाई हरिकेश ने फोन किया तो संपर्क नहीं हो सका। तब हरिकेश ने राजमल के दोस्त विजय को फोन किया। तब विजय ने बताया कि राजमल को दो व्यक्ति अपनी बाइक पर बैठाकर लेकर गए थे। इसके बाद से उसका मोबाइल बंद आ रहा है। कुछ घंटे बाद एक मोबाइल नंबरों से राजमल के भाई के मोबाइल पर फोन आया। जिसमें बदमाशों ने राजमल का अपहरण करने और उसे छोड़ने की एवज में 24 लाख रुपयों की फिरौती मांगी।

तब हरिकेश ने आमेर थाने में सूचना दी। इसके बाद एसीपी सौरभ तिवाड़ी व थानाप्रभारी शिवनारायण यादव के नेतृत्व में अलग अलग टीमें गठित कर लोकेशन के आधार पर रवाना की गई। पुलिस टीम अपहरणकर्ताओं का पीछा कर भिवाड़ी, गुरुग्राम से होकर दिल्ली पहुंची। यहां मंगलवार देर रात दिल्ली पुलिस का सहयोग लिया गया। इसके बाद दिल्ली के संगम विहार से दोनों आरोपियों को धरदबोचा। उनकी चंगुल से अपहृत राजमल को सकुशल मुक्त करवाया और जयपुर ले आए।

खबरें और भी हैं...