पोश मशीन दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी:कोतवाली थाना पुलिस ने पकड़े दो शातिर ठग, गिरोह में ई-मित्र संचालक भी शामिल

जयपुर3 महीने पहले
पुलिस गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

राजधानी जयपुर में व्यापारी को कार्ड स्वैप पोश मशीन उपलब्ध करवाने के नाम पर ऑनलाईन ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश हो गया है। शहर की कोतवाली थाना पुलिस और साइबर क्राइम युनिट नॉर्थ ने इस गिरोह का खुलासा कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है । डीसीपी नॉर्थ परिस देशमुख ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि इस संबंध में गारमेंट व्यवसायी ने मामला दर्ज कराया था । रिपोर्ट में बताया गया था कि उनकी दुकान पर आए दो युवकों ने खुद को भारत पोश कम्पनी के प्रतिनिधि होना बताया और कार्ड स्वैप करने वाली मशीन देने की बात कही।

झांसे में लेकर युवकों ने पीड़ित के मोबाईल पर जूपोश का एप इंस्टाल करवाया और पैन कार्ड , आधार कार्ड की जानकारी ली। इसके बाद पीड़ित के पते पर बैंक का क्रेडिट कार्ड मिला जिसमें लिमिट 70 हजार रूपए थी लेकिन इसका ट्रांजैक्शन पहले ही कर लिया गया था । पीड़ित की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी उत्तम सिंह और नरेश कुमार को गिरफ्तार किया है । पूछताछ में सामने आया है कि लोगों से ठगी करने के लिए आरोपी प्रशान्त सिंह, अमित सिंह, उत्तम सिंह और नरेश शर्मा ने एक गिरोह बना रखा है। उत्तम सिंह चौधरी और अमित चौधरी जयपुर शहर में दुकानदारों को झांसे में लेकर उनके मोबाईल में जूपोश एप्प डाउनलोड कर उनके पैन और आधार कार्ड की जानकारी लेकर प्रशान्त सिंह को उपलब्ध करवाते हैं।

शातिर उत्तम सिंह और अमित चौधरी ने जूपोश की फर्जी आईडी बना रखी थी जिसे दिखाकर लोगों को झांसे में लेते थे। इस दौरान दुकानदार के मोबाईल पर आये ओटीपी नम्बर हासिल कर अपने साथी प्रशान्त सिंह को भेज देते है । प्रशान्त सिंह इनके जरिए बैंक का क्रेडिट कार्ड आनलाईन जारी करवा फर्जी सिम नम्बर एन्टर कर देता है। फर्जी सिम को क्रेडिट कार्ड में उपयोग कर केस लिमिट के रूपए ई मित्र संचालक नरेश शर्मा के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर निकाल लेते है । फिलहाल पुलिस इन आरोपियों से पूछताछ कर अन्य साथियों के बारे में जानकारी जुटा रही है ।