• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Looteri Dulhan In Jaipur, A Gang Member Arrested By Muhana Police In A Cheating Case, The Bride Of Assam Ran Away With Jewellery And Money

जयपुर में लुटेरी दुल्हन का फर्जी पिता गिरफ्तार:अनजान लड़की को बेटी बताकर करवाई शादी, पहले 14 लाख रुपए वसूले, फिर जेवर लेकर भागी दुल्हन

जयपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में मुहाना थाना पुलिस की गिरफ्त में आरोपी सुरेशचंद्र शर्मा - Dainik Bhaskar
जयपुर में मुहाना थाना पुलिस की गिरफ्त में आरोपी सुरेशचंद्र शर्मा

जयपुर में एक युवक की शादी करवाने का झांसा देकर 14 लाख रुपए ठगने वाली लुटेरी दुल्हन के फरार साथी को मुहाना थाना पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया है कि यह गैंग शादी के लिए लड़की तलाश रहे जरुरतमंद परिवार व लड़कों को तलाश करते है। शादी करवाने की एवज में लाखों रुपए वसूल कर लेते है। गैंग में शामिल आरोपी व्यक्ति अनजान लड़की को बेटी बताकर शादी करवा देता है।

फिर गैंग में शामिल दुल्हन युवती भी कुछ दिनों ससुराल में ठहर कर जेवर व नकदी लेकर भाग निकलती है। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि गिरफ्तार सुरेश चंद्र का ससुराल आसाम में है। पूछताछ में बताया कि व ह जिस लड़की को बेटी बताकर शादी करवाता था। वह लड़की रुपयों का लालच देकर आसाम से बुलवाई जाती थी। परिवादी ने दुल्हन घर से गायब हो जाने के बाद आरोपी सुरेश, दीपक व रामचंद्र को फोन कर 14 लाख रुपए लौटाने को कहा तो उसे दहेज उत्पीड़न और बलात्कार के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देना शुरु कर दिया। इससे वह घबरा गया।

अलवर का रहने वाला है अनजान दुल्हन का पिता बनने वाला शातिर ठग
डीसीपी (साउथ) हरेंद्र महावर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी सुरेश चन्द्र शर्मा (45) अलवर जिले में थानागाजी तहसील में गांव मांदरी माल कंवर के पास रहता है। उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। डीसीपी ने बताया कि जयपुर के में अभयपुरा गांव में रहने वाले रामदयाल शर्मा ने मुहाना थाने में 14 नवंबर को केस दर्ज करवाया था।

जिसमें बताया कि अलवर में थानागाजी के रहने वाले सुरेश शर्मा व दीपक शर्मा ने अभयपुरा गांव के ही रहने वाले शंभूदयाल व मुकुंदपुरा जयपुर निवासी रामचंद्र शर्मा के मार्फत उसकी शादी की बात चलाई।आरोपियों ने संगीता नाम की एक लड़की का बायोडेटा दिया। उसे लड़की की फोटो भी दिखाई। इस लड़की को आरोपियों ने अपने परिचित सुरेश शर्मा की बेटी होना बताया। फिर पीड़ित रामदयाल से शादी करवाने की एवज में 14 लाख रुपए की डिमांड की।

आरोपियों की बातों में आकर पीड़ित रामदयाल ने अपनी जमीन बेचकर 14 लाख रुपयों का इंतजाम किया। यह रकम आरोपियों को दे दी। आरोपियों ने बताया कि लड़की का कोई रिश्तेदार नहीं है। वह पिता के इकलौती बेटी है। ऐसे में घर के पांच लोग ही शादी करवा देंगे। इसके बाद नवंबर माह में आरोपियों ने पीड़ित रामदयाल की संगीता नाम की लड़की से शादी करवा दी। 14 लाख रुपए भी वसूल कर लिए।

शादी के चार-पांच दिन बाद भाग निकलीं लुटेरी दुल्हन

तब शादी के कुछ दिनों तक संगीता ससुराल में रामदयाल की पत्नी बनकर रही। फिर घर से सोने चांदी के जेवरात व पांच लाख रुपए भाग निकली। वारदात के बाद मुहाना थानाप्रभारी लखन खटाना के नेतृत्व में पुलिस ने जांच पड़ताल शुरु की। पुलिस ने मोबाइल फोन नंबरों व सीसीटीवी फुटेज से लड़की का पिता बनने वाले आरोपी की पहचान सुरेश चंद्र शर्मा के रुप में की। उसे अलवर में थानागाजी से पकड़ लिया। जबकि लुटेरी दुल्हन सहित गैंग में शामिल अन्य सभी आरोपी फरार चल रहे है। गिरफ्त में आए सुरेश से पूछताछ कर उनको नामजद किया जा रहा है। गिरफ्तारी के लिए संभावित जगहों पर दबिश दी जाएगी।