यह मेरे सजदे का तरीका:जिम्नास्टिक में राजस्थान का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं दरगाह में वीडियो बनाने वाली मिशा, बोलीं- किसी के अपमान का इरादा नहीं

जयपुर10 महीने पहलेलेखक: छवि टाक

दरगाह में जिम्नास्टिक का वीडियो बनाकर लोगों के निशाने पर आई मिशा ने अब सफाई दी है। भास्कर से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनका इरादा किसी का अपमान करना नहीं था। वीडियो उन्होंने अजमेर शरीफ का सजदा करने के इरादे से बनाया था। मिशा नेशनल लेवर की जिम्नास्ट हैं और इसमें राजस्थान का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।

मिशा का कहना है कि वीडियो उन्होंने सजदे के लिए बनाया था।
मिशा का कहना है कि वीडियो उन्होंने सजदे के लिए बनाया था।

दरगाह से जुड़ाव महसूस करती हूं

उन्होंने बताया कि अजमेर दरगाह से उनका बहुत जुड़ाव है। वह हर किसी बड़े काम को करने से पहले अजमेर दरगाह पर जरूर जाती हैं। इस बार नवंबर में जब मिशा दरगाह पर गईं तो उन्होंने सोचा की वह जिम्नास्टिक स्टाइल में दरगाह पर सजदा करें। उसका वीडियो मिशा ने दिसंबर में सोशल मीडिया पर अपलोड किया था। अब जनवरी में इस वीडियो के वायरल होने के बाद दरगाह के लोगों ने मिशा पर धार्मिक भावना को आहत करने का आरोप लगाया है। हालांकि मिशा के माफी मांगने के बाद शिकायत वापस ले ली गई है।

मिशा ने बताया कि वह अपने वीडियो के लिए टूरिस्ट लोकेशन को चुनती हैं। ताकि वह ज्यादा से ज्यादा लोगों से कनेक्ट कर सकें। मिशा अभी तक जयपुर, मुंबई, उत्तराखंड, ऋषिकेश की फेमस लोकेशंस पर समरसॉल्ट, बैकफ्लिप, कार्टवील जैसे स्टंट के वीडियो बना चुकी हैं।

मिशा अब तक 40 से ज्यादा मेडल जीत चुकी हैं।
मिशा अब तक 40 से ज्यादा मेडल जीत चुकी हैं।

छोटी उम्र में हुई जिम्नास्टिक की शुरुआत

22 साल की मिशा ने बताया कि 12 साल की उम्र में जिम्नास्टिक की शुरुआत हुई थी। मिशा करीब 10 साल से जिम्नास्टिक कर रही हैं। उन्हें इसकी इंस्पिरेशन 7वीं क्लास में अपने दोस्त से मिली। उन्हें इस मुकाम पर पहुंचने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी। 9वीं क्लास में मिशा ने जिला लेवल पर टॉप किया था। वहीं, राजस्थान में उन्होंने तीसरा स्थान हासिल किया। इसके बाद मिशा ने इसी साल नेशनल में पार्टिसिपेट किया था। इस के बाद मिशा ने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। मिशा कुल 40 से ज्यादा मेडल जीत चुकी हैं। सुबोध स्कूल से पढाई कर चुकी मिशा महारानी कॉलेज से बीए की पढ़ाई कर रही हैं।

देश के अलग-अलग टूरिस्ट प्लेस पर दिखा चुकी हैं स्टंट।
देश के अलग-अलग टूरिस्ट प्लेस पर दिखा चुकी हैं स्टंट।

खुद बनाई अपनी राह

मिशा बताती हैं कि उनके पास कॉलेज की फीस जमा करने करने के भी पैसे नहीं थे। ऐसे में जिम ट्रेनर की जॉब करके कॉलेज की पढ़ाई कर रही हैं। मिशा ने 2019 में खुद का जिम रेट्रो फिट भी ओपन किया था। कोरोना के चलते बंद हो गया। इसके बाद से मिशा सोशल मीडिया के जरिए ही अपनी अर्निंग कर रही हैं।

जिम में ट्रेनिंग देती हैं मिशा। इसके साथ सोशल मीडिया से भी उनकी कमाई होती है।
जिम में ट्रेनिंग देती हैं मिशा। इसके साथ सोशल मीडिया से भी उनकी कमाई होती है।

लाखों हैं फॉलोअर्स

मिशा एक सामान्य परिवार से आती हैं। उनके पिता टेलर का काम करते हैं। मां गार्ड की जॉब करती हैं। मिशा की बहन और भाई भी हैं। भाई की गवर्नमेंट जॉब है। मिशा सोशल मीडिया से हर महीने 20 से 25 हजार कमा पाती हैं। इंस्टाग्राम औऱ टिक्की ऐप को मिलाकर मिशा के कुल 5 लाख फॉलोअर्स हैं।

कई मौकों पर मिशा का सम्मान हो चुका है।
कई मौकों पर मिशा का सम्मान हो चुका है।
खबरें और भी हैं...