कांग्रेस में कलह:सोरसन में प्रस्तावित गोडावण प्रजनन केंद्र को लेकर विधायक व मंत्री भिड़े

जयपुर/काेटा10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस में नीचे से लेकर ऊपर तक आपसी कलह और वर्चस्व की जंग जारी है। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस में नीचे से लेकर ऊपर तक आपसी कलह और वर्चस्व की जंग जारी है।

कांग्रेस में नीचे से लेकर ऊपर तक आपसी कलह और वर्चस्व की जंग जारी है। हाड़ौती इलाके से आने वाले खान मंत्री प्रमोद जैन भाया को उन्हीं के इलाके के विधायक भरत सिंह ने एक बार फिर निशाने पर लिया है। इस बार दोनों के बीच विवाद का केंद्र बारां के सोरसन में 33.85 कराेड़ की लागत से बनने वाले गाेडावण ब्रीडिंग सेंटर है, जिसके आसपास के खानों को विधायक ने तुरंत निरस्त करने की मांग की है, जबकि खान मंत्री प्रमोद जैन भाया ने दो टूक कहा कि सोरसन में गोडावण है ही नहीं, न ही वहां प्रजनन केंद्र बनेगा। विधायक भरत सिंह की मांग अव्यवहारिक है।

राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही भरत सिंह भाया के खिलाफ मोर्चा आक्रामक तेवर अपनाए हुए है। कांग्रेस विधायक भरत सिंह मंगलवार सचिवालय में वन मंत्री सुखराम विश्नोई एवं वन विभाग के उच्चाधिकारियों से मिले। उन्हें खूब खरी-खरी सुनाई। उन्हाेंने इस एरिया में खानों को तुरंत निरस्त करने की बात कही। विधायक सिंह ने वन मंत्री से कहा कि यदि खानों का निरस्त नहीं किया तो वे खुद विस्फोट स्थल पर जाकर विरोध करेंगे।

वन मंत्री से पर्यावरण संगठनों के शिष्ट मंडल ने भी कहा कि हजारों पर्यावरण एवं वन्यजीव प्रेमी भी खनन क्षेत्र पर बैठेंगे। विधायक ने आश्चर्य व्यक्त किया कि वन भूमि की पेरीफैरी में खनन पर वन विभाग के अधिकारियों ने आपति क्यों नहीं की गई? विभाग की प्रधान सचिव श्रेया गुहा, प्रधान मुख वन सरंक्षक डीएन पांडेय, मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरिंदम तोमर समेत अनेक उच्चाधिकारी मीटिंग में मौजूद रहे। बारां के डीसीएफ काे निलंबित करने की मांग की। वन मंत्री ने शिष्ट मंडल की मांगों पर गंभीरता से विचार करने का आश्वासन दिया।

यह योजना है : गाेडावण संरक्षण के लिए यह 35 साल की याेजना है। इसके लिए 2017-18 में गाेडावण संरक्षण की दिशा में किए जा रहे प्रयासाें के तहत राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गति देने के लिए भारत सरकार, राज्य सरकार एवं वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के बीच एमओयू हाे चुका है। यहां एक्सपर्ट की टीमें कई बार विजिट कर चुकी है। प्रदेश के जैसलमेर एवं बारां में गाेडावण एग कलेक्शन एवं हैचिंग सेंटर बनना है। जैसलमेर में बन चुका है।

साेरसन एरिया में किसी भी कीमत पर ब्लास्टिंग नहीं हाेने देंगे। यदि खानों काे निरस्त नहीं किया तो विस्फोट स्थल पर जाकर अपनी उपस्थित दर्ज करवाऊंगा। -भरतसिंह कुंदनपुर, विधायक

सोरसन में गोडावण है ही नहीं, न ही वहां प्रजनन केंद्र बनेगा। मेरे ऊपर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। ये विधायक की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है। सीएम का निर्णय सर्वोपरि है। -प्रमोद जैन भाया, खान मंत्री

खबरें और भी हैं...