मोदी के कार्यक्रम से पहले जयपुर में हंगामा:चिकित्सा विभाग की गलती के कारण पीएम के कार्यक्रम में हंगामा; गणगौरी बाजार स्थित हॉस्पिटल में ऑक्सीजन प्लांट के उदघाटन कार्यक्रम में बिफरे कांग्रेसी कार्यकर्ता

जयपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सांसद का घेराव करते कांग्रेस के कार्यकर्ता और नारेबाजी करते हुए। - Dainik Bhaskar
सांसद का घेराव करते कांग्रेस के कार्यकर्ता और नारेबाजी करते हुए।

जयपुर के गणगौरी बाजार स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय हॉस्पिटल में लगे ऑक्सीजन प्लांट के उद्घाटन कार्यक्रम से पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। स्थानीय विधायक, पार्षद को नहीं बुलाने से गुस्साएं कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सांसद रामचरण बोहरा, हॉस्पिटल अधीक्षक डॉ. रामबाबू शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस ऑक्सीजन प्लांट का उदघाटन आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऑनलाइन किया। दरअसल इस पूरे घटनाक्रम के लिए जिम्मेदारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग है। विभाग की कार्यक्रम की गुपचुप तैयारी की और किसी भी जनप्रतिनिधि को इसके बारे में न तो जानकारी और न ही निमंत्रण भेजा।

मौके पर हंगामे को देखकर वहां पहुंचे सांसद रामचरण बोहरा बिना उद्घाटन किए मौके पर पीएम का भाषण सुनने के बाद चले गए। इस मौके पर सांसद रामचरण बोहरा ने आरोप लगाए कि कांग्रेस का काम केवल एक परिवार को बढ़ावा देना है। उनको विकास से कोई लेना-देना नहीं है। यही कारण है कि आज इतने महत्वपूर्ण कार्यक्रम में ऐसा विरोध किया।

आपको बता दें कि जयपुर के गणगौरी बाजार स्थित सरकारी हॉस्पिटल में एक हजार सिलेण्डर की क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट लगाया गया है, जिसे केन्द्र सरकार की डीआरडीओ के जरिए लगाया है। इस ऑक्सीजन प्लांट का शुभारम्भ आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्चुअल किया है। जयपुर के अलावा चित्तौड़गढ़ और भीलवाड़ा समेत अन्य कई जिलों में लगे प्लांट का भी स्थानीय स्तर पर सांसदों के जरिए लोकार्पण किया गया।

कार्यक्रम में पीएम मोदी का भाषण सुनते सांसद और हॉस्पिटल के डॉक्टर्स।
कार्यक्रम में पीएम मोदी का भाषण सुनते सांसद और हॉस्पिटल के डॉक्टर्स।

जून में जब उदघाटन हुआ तो अब दोबारा क्यों?

विरोध कर रहे कांग्रेस के स्थानीय नेता मित्रोदय गांधी ने बताया कि इस ऑक्सीजन प्लांट का उदघाटन जून में ही हो चुका है, ऐसे में दोबारा इसका उदघाटन क्यों किया जा रहा है? अगर करना ही था तो लोकल लेवर पर जनप्रतिनिधियों को इसकी सूचना क्यों नहीं दी गई? कांग्रेस कार्यकर्ताओं के इस आरोप के जवाब में हॉस्पीटल के सुप्रीडेंट (अधीक्षक) डॉ. रामबाबू शर्मा ने कहा कि जून में इस प्लांट का कोई उदघाटन नहीं हुआ है अगर ऐसा कोई कार्यक्रम हुआ है तो उसके सबूत पेश करें।

गुपचुप तैयारी, किसी को खबर तक नहीं

इस कार्यक्रम को लेकर चिकित्सा विभाग की लापरवाही भी नजर आ रही है। इस कार्यक्रम की बुधवार को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने गुपचुप तैयारी कर ली। चिकित्सा विभाग के शासन सचिव वैभव गालरिया ने आदेश जारी करके सभी कलेक्टर्स को इस कार्यक्रम की तैयारी करने के निर्देश दिए। हालांकि इस दौरान विभाग ने किसी जनप्रतिनिधि को निमंत्रण नहीं भेजा। जयपुर में स्थानीय कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि इस कार्यक्रम के लिए लोकर विधायक, पार्षद तक को कोई सूचना नहीं है, जबकि विभाग की ये जिम्मेदारी है कि वे किसी भी तरह के लोकार्पण या शिलान्यास कार्यक्रम में स्थानीय स्तर के जनप्रतिनिधि को सूचित करें और निमंत्रण भेजे।

खबरें और भी हैं...