• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • National President JP Nadda Will Take A Class Of BJP MPs From Rajasthan In Delhi Tomorrow, Will Get A Task To Improve The Image By Promoting The Works Of Modi Government

राजस्थान के भाजपा सांसदों की दिल्ली में क्लास:राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सांसदों को दिया मोदी सरकार के कामों का प्रचार-प्रसार कर छवि सुधारने का टास्क, राजस्थान में जल्द सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी बीजेपी

जयपुरएक वर्ष पहले
दिल्ली में राजस्थान के बीजेपी सांसदों की बैठक

राजस्थान के सभी बीजेपी सांसदों के कामकाज का राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और वरिष्ठ नेताओं ने हिसाब किताब लिया। सांसदों की परफॉर्मेंस पर चर्चा करने के लिए गुरुवार रात को दिल्ली में जेपी नड्डा की अध्यक्षता में हुई बैठक में कोरोनाकाल में बीजेपी के सेवा कार्यों में सांसदों के योगदान की समीक्षा की गई। ,

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने सांसदों से मोदी सरकार की योजनाओं को गांव, शहर और ढाणियों तक ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार करने को कहा। नड्डा ने प्रदेश में पार्टी की संगठनात्मक मजबूती के लिए सशक्त मंडल, सक्रिय बूथ समितियों के गठन और पन्ना इकाइयों की मजबूती पर विशेष जोर दिया। इसके अलावा गहलोत सरकारर के खिलाफ भविष्य में बड़े आंदोलन की रूपरेखा बनाने के भी निर्देश दिए।

सांसदों के साथ होने वाली समीक्षा बैठक में पार्टी के कामों और अभियानों में अब तक के कामकाज के रिव्यू के साथ आगे संगठन से जुड़े टास्क दिए गए। बीजेपी का मुख्य फोकस केंद्र सरकार की योजनाओं का बड़े पैमाने पर प्रचार प्रसार का है। महंगाई, बेरोजगारी और कोरोना में सरकारी खामियों को लेकर मोदी सरकार को लेकर बन रही धारणा पर भी सांसदों से चर्चा की गई। केंद्र सरकार के प्रति जनता की धारणा को लेकर बीजेपी सांसदों का सीधा ग्राउंड से कनेक्ट रहने का टास्क मिलेगा ताकि केंद्र के प्रति जनता के बीच नाराजगी पनपने से पहले उसे काउंटर किया जा सके।

इस साल सांसदों की दूसरी बार समीक्षा बैठक
राजस्थान के बीजेपी सासंदों की यह दूसरी समीक्षा बैठक थी। 6 महीने पहले भी जेपी नड्डा ने सांसदों की बैठक ली थी। बैठक में बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, नेता प्रतिपक्ष गुलाबंचद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, संगठन महामंत्री चंद्रशेखर भी बैठक में शामिल हुए।

केंद्र की योजनाओं का सियासी फायदा उठाने पर फोकस
बीजेपी केंद्र सरकार की छवि को लेकर बहुत सजग है। इसलिए सांसदों को केंद्र की योजनाओं की धरातल पर जाकर राजनीतिक मॉनिटरिंग करने का टास्क दिया हुआ है। केंद्र की योजनाओं का लाभार्थियों के बीच बड़े पैमाने पर प्रचार प्रसार का जिम्मा सांसदों के कंधों पर है। बीजेपी चाहती है कि केंद्र की फंडिंग वाली योजनाओं का श्रेय पूरी तरह पार्टी को ही मिले। इसीलिए सांसदों से समय-समय पर फीडबैक लिया जाता है। बीजेपी संगठन की टीम को भी इस काम में लगाया है। बीजेपी का फोकस केंद्र की योजनाओं के बूते सियासी फायदे पर है, सियासी फायदे के लिए जनता के पर्सेप्शन को लगातार पक्ष में करने की कवायद की जा रही है।

खबरें और भी हैं...