राजस्थान में कोरोना की सुकून भरी खबर:18 मार्च के बाद सिर्फ 368 नए पॉजिटिव, तीन जिलों में एक भी केस नहीं; अगले सप्ताह हट सकता है वीकेंड कर्फ्यू

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर में लगी पाबंदियों में और ढील मिल सकती है। राज्य में शनिवार को कोरोना के 368 नए मरीज मिले हैं, जो 18 मार्च के बाद सबसे कम हैं। जिस तरह कोरोना केसों की संख्या में कमी आती जा रही है और एक्टिव केस हर रोज कम होते जा रहे हैं उससे साफ है कि अगले सप्ताह तक प्रदेश से वीकेंड कर्फ्यू हट सकता है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से जारी रिपोर्ट को देखें तो शनिवार को राजस्थान के 3 जिलों बारां, डूंगरपुर और जालौर में कोरोना के एक भी केस नहीं आए, जबकि सात जिले सवाई माधोपुर, राजसमंद, कोटा, करौली, धौलपुर, बूंदी और भरतपुर ऐसे जिले हैं, जहां केवल एक-एक मरीज ही मिला है। जयपुर में सबसे ज्यादा 55 केस मिले हैं।

संक्रमण दर दूसरे दिन भी एक फीसदी से कम

राज्य में शनिवार को कोरोना केसों के कम आने के साथ ही संक्रमण की दर में भी कमी आई है। लगातार दूसरे दिन राज्य में संक्रमण की दर एक फीसदी से भी कम रही है। WHO के मुताबिक किसी भी देश या राज्य में अगर पॉजिटिविटी रेट एक सप्ताह या उससे ज्यादा समय तक 5 फीसदी से कम रहती है तो उस स्थिति में वहां कोरोना को कंट्रोल स्थिति में माना जाता है। राज्य में भी पिछले 12 दिन से कोरोना की संक्रमण दर 4 फीसदी से भी कम है।

एक्टिव केस 8,400 पर पहुंचे

राजस्थान में शनिवार को एक्टिव केसों की संख्या भी घटकर 8,400 पर पहुंच गई। एक्टिव केस के मामले में अब देश में राजस्थान का नंबर 16वें नंबर पर आता है। मध्य प्रदेश, बिहार को छोड़ दें तो सभी बड़े प्रदेशों की तुलना में राजस्थान में एक्टिव केस कम हैं। उत्तर प्रदेश, पंजाब, गुजरात, जम्मू कश्मीर सहित अन्य राज्यों से भी कम एक्टिव केस राजस्थान में हैं। वहीं राजस्थान में जिलेवार स्थिति देखें तो सवाई माधोपुर, प्रतापगढ़, करौली, झालावाड़, जालौर, डूंगरपुर, धौलपुर, बूंदी, भीलवाड़ा, भरतपुर, बारां और बांसवाड़ा में एक्टिव केस 100 से भी कम हैं।

खबरें और भी हैं...