अभी 2 हजार से ज्यादा निजी कॉलेज:प्रदेश में अब 2 साल तक नए निजी काॅलेज नहीं खुल सकेंगे

जयपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश में अगले दाे साल तक नए प्राइवेट काॅलेज नहीं खुल सकेंगे। - Dainik Bhaskar
प्रदेश में अगले दाे साल तक नए प्राइवेट काॅलेज नहीं खुल सकेंगे।

प्रदेश में अगले दाे साल तक नए प्राइवेट काॅलेज नहीं खुल सकेंगे। राज्य सरकार ने सत्र 2022-23 और 2023-24 के लिए नए प्राइवेट कॉलेजों के आवेदन आमंत्रित करना स्थगित कर दिया है। काॅलेज शिक्षा विभाग की आयुक्त शुचि त्यागी ने कहा- प्राइवेट कॉलेजों की संख्या में बढ़ोतरी की जगह शैक्षणिक गुणात्मक बढ़ोतरी पर ध्यान देंगे।

फिलहाल प्रदेश में निजी, निजी सहभागिता और स्ववित्तपोषी मिलाकर करीब 2000 काॅलेज हैं। इनमें से 350 से ज्यादा सरकारी और 1400 शिक्षक प्रशिक्षण काॅलेज हैं। 2020-21 में सरकारी और प्राइवेट मिलाकर करीब 247 काॅलेज खुले हैं। वहीं कांग्रेस सरकार ने तीन साल में 120 से ज्यादा सरकारी काॅलेज शुरू किए हैं।

13 लाख नामांकन
प्रदेश में सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में नामांकन 13 लाख के पार हाे गया है। 2020-21 सेशन में सरकारी कॉलेजों में 4,85,988 और प्राइवेट कॉलेजों में 7,73,493 नामांकन हुआ था। इसके बाद कॉलेजों और सीटाें में बढ़ोतरी हाे गई।

प्राइवेट कॉलेजों काे एनओसी काॅलेज आयुक्तालय से और संबद्धता यूनिवर्सिटी से लेनी हाेती है। राज्य में 28 सरकारी, 51 प्राइवेट यूनिवर्सिटी हैं।

खबरें और भी हैं...