पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुपरकेयर:अब एक ही छत के नीचे पर्ची कटने से लेकर ऑपरेशन तक की सुविधा मिलेगी

जयपुर14 दिन पहलेलेखक: सुरेन्द्र स्वामी
  • कॉपी लिंक
एसएमएस हॉस्पिटल ट्रॉमा सेंटर के पास में सुपर स्पेशलिटी सेंटर बनकर तैयार है। विबाग का दावा-इसे जल्द शुरू कर दिया जाएगा। - Dainik Bhaskar
एसएमएस हॉस्पिटल ट्रॉमा सेंटर के पास में सुपर स्पेशलिटी सेंटर बनकर तैयार है। विबाग का दावा-इसे जल्द शुरू कर दिया जाएगा।
  • एसएमएम में 200 करोड़ का ‘सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक’ तैयार

एसएमएस में 200 करोड़ की लागत से ‘सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक’ लगभग पूरा हो चुका है। पेट, किडनी से संबंधित और ट्रांसप्लांट कराने वाले मरीजों को इलाज के लिए अब इधर-उधर भटकना नहीं होगा। नेफ्रोलोजी, यूरोलोजी, गेस्ट्रोएंट्रोलोजी की ओपीडी से लेकर इनडोर, जांच की उच्च स्तरीय सुविधा एक ही छत के नीचे मिलेगी। यही नहीं आधुनिक सुविधाओं से युक्त सेन्टर पर ही आर्गन ट्रांसप्लांट हो सकेंगे।

सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक का निर्माण मई-2018 में काम प्रारंभ हुआ था। पीएमएसएसवाई फेज-4 के तहत नए सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक में विद्युत आपूर्ति सुचारु रूप से करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दे चुकी है। मरीजों को कतार में लगने की आवश्यकता नहीं होगी। नंबर बताने के लिए कंप्यूटराइज्ड व्यवस्था से मैसेज मिल जाएगा। इस ब्लॉक में डॉक्टर को दिखाने के लिए एक बार में एक ही मरीज को एंट्री मिलेगी। इससे मरीजों को संक्रमण का खतरा न के बराबर होगा।

किसके कितने बैड
मेडिकल गेस्ट्रोएंट्रोलोजी 62
यूरोलोजी 70
नेफ्रोलोजी 48
डायलिसिस 34
आईसीयू 31
दो माह में ऑर्गन ट्रांसप्लांट की सुविधा भी शुरू हो जाएगी
200 करोड़ की लागत से सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक भवन का अधिकतर काम हो चुका है। शेष एक-दो माह में पूरा हो जाएगा। इसमें 120 करोड़ केन्द्र व 80 करोड़ रुपए राज्य सरकार का हिस्सा है। उपकरण खरीदे जा रहे है। अगले दो माह में पेट, किडनी और ट्रांसप्लांट कराने वाले मरीजों को एक ही छत के नीचे सुविधा मिल सकेगी। -डॉ.एस.एम.शर्मा, अतिरिक्त प्राचार्य

‘सुपरस्पेशलिटी ब्लॉक’ में कहां क्या सुविधा मिलेगी

  • गंभीर मरीजों के लिए आधुनिक 31 आईसीयू बेड मिल जाएंगे
  • किडनी, लिवर समेत अन्य आर्गन ट्रांसप्लांट सुविधा एक ही जगह
  • माइक्रोबायलोजी, बायोकेमिस्ट्री, पैथोलोजी लैब, 6 मॉड्यूलर ओटी
  • किडनी मरीजों की डायलिसिस के लिए 34 बैड की सुविधा होगी
  • एमआरआई और सीटी स्कैन भी एक जगह ही कराया जा सकेगा।

किस मंजिल पर क्या

  • बेसमेंट-1: रेडियोलोजी, एमआरआई, सीएसएसडी, एसी प्लांट
  • ग्राउंड: इमरजेंसी, ओपीडी विथ एनसीलरी सर्विस
  • प्रथम: माइक्रोबायलोजी, बायोकेमिस्ट्री, पैथोलोजी लैब, सोटो अ़फिस, एमआरडी
  • सैंकड: मेडिकल गेस्ट्रो विभाग
  • थर्ड : एंडोस्कोपी, आईसीयू वार्ड
  • चतुर्थ : यूरोलोजी विभाग
  • पांचवी: नेफ्रोलोजी विभाग, आईसीयू
  • छठवी: नेफ्रोलोजी (डायलिसिस सेक्शन)
  • सातवीं: मोड्यूलर ओटी, आईसीयू वार्ड
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें