पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • On The Death Of Corona, Gehlot Government Will Bear The Entire Expenses Of The Funeral, Free Ambulance Facility To Transport The Dead Body From The Hospital To The Crematorium

ऑक्सीजन-बेड मिले या न मिले, अंतिम संस्कार फ्री:राजस्थान सरकार कोरोना से मौत पर जलाने-दफनाने का पूरा खर्च उठाएगी, शव को ले जाने मुफ्त एंबुलेंस देगी

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

कोरोना संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन बेड मिले न मिले, लेकिन अंतिम संस्कार के लिए सरकार पूरा खर्च जरूर देगी। साथ ही शव को अस्पताल से श्मशान-कब्रिस्तान ले जाने के लिए मुफ्त एंबुलेंस या वाहन की सुविधा भी मिलेगी।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसके लिए सभी शहरी निकायों, कलेक्टरों, अस्पतालों को निर्देश जारी कर दिए हैं। हाल ही में जोधपुर उत्तर नगर निगम ने यह व्यवस्था शुरू की है। जिसे अब मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश की नगर निगमों, नगर परिषदों और नगरपालिकाओं में लागू करने का फैसला किया है। यह व्यवस्था तुरंत प्रभाव से लागू होगी।

सीएम गहलोत ने निर्देश दिए हैं कि पूरे प्रदेश में पार्थिव देह का अस्पताल से श्मशान, कब्रिस्तान तक सम्मानपूर्वक परिवहन सुनिश्चित किया जाए। अस्पताल से पा​र्थिव देह ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिले तो ऐसी हालत में जिला परिवहन अधिका​री के जरिए वाहनों का अधिग्रहण करवाकर व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। पार्थिव देह के नि:शुल्क परिवहन की जानकारी के लिए हर शहरी निकाय के कंट्रोल रूम के नंबर जारी कर इनका प्रचार प्रसार करने को कहा है।

पा​र्थिव देह को मुफ्त ले जाने के लिए वाहन या एंबुलेंस की व्यवस्था शहरी निकाय के कंट्रोल रूम के अधीन रहेगी। कंट्रोल रूम में एंबुलेंस के लिए कॉल आने पर उसका पूरा ब्यौरा रजिस्टर में दर्ज कर रिकॉर्ड रखना होगा। इन वाहनों की पूरी लॉग शीट भरी जाएगी।

राजस्थान में लगातार बढ़ रहा है मौतों का आंकड़ा
राजस्थान में कोरोना से होने वाली मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। शनिवार को कोरोना से 74 मौतें हुई हैं। सरकार ने शहरी इलाकों में अंतिम संस्कार और पार्थिव देह के मुफ्त परिवहन की सुविधा से गरीब लोगों को सुविधा होगी। कई प्रदेशों में शवों को ले जाने की सुविधा नहीं होने और गरीब लोगों के शव रिक्शा में ले जाने के मामले सामने आए थे। राजस्थान सरकार ने कई प्रदेशों से ऐसे मामले सामने आने के बाद यह फैसला किया है।

जयपुर के स्वास्थ्य भवन में रविवार से शुरू होगी 'चिकित्सा मंत्री हेल्पडेस्क'
प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए रविवार से जयपुर स्थित स्वास्थ्य भवन में 'चिकित्सा मंत्री हेल्प डेस्क कोविड-19' (कंट्रोल रूम) की शुरुआत की जाएगी। हेल्प डेस्क का प्रभारी डॉ लक्ष्मण सिंह ओला, निदेशक (आरसीएच) को बनाया गया है। प्रदेश का कोई भी व्यक्ति 0141- 2225624 या 2225000 पर फोन कर सकता है। हेल्प डेस्क का संचालन 24 घण्टे (राउण्ड दी क्लॉक) तीन पारियों किया जाएगा।

ऑक्सीजन भले न मिले, शराब जरूर मिलेगी:राजस्थान में सुबह 6 से 11 बजे तक खुलेंगे मयखाने, वीकेंड लॉकडाउन पर बंद रहेंगी दुकानें; वित्त विभाग ने जारी किया आदेश

खबरें और भी हैं...