पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरयू में नॉन कॉलेजिएट का बढ़ा ग्राफ:यूजी, पीजी के 4.91 लाख स्टूडेंट्स में से 42% नॉन कॉलेजिएट, पीजी में ही 69% स्टूडेंट

जयपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की वजह से छात्र घर पर ही कर रहे हैं पढ़ाई

राजस्थान यूनिवर्सिटी अब 2020-21 सेशन की परीक्षाओं की तैयारी में जुट गई है। इस साल यूजी, पीजी और प्रोफेशनल कोर्सेज में मिलाकर 5,46,248 स्टूडेंट्स परीक्षा देंगे, लेकिन खास बात यह है कि यूजी, पीजी कोर्सेज में 4,91,525 स्टूडेंट्स में से 42 % नॉन कॉलेजिएट हैं। सिर्फ पीजी की बात करें तो भी यह आंकड़ा 69% है। राजस्थान यूनिवर्सिटी से जयपुर, दौसा के यूजी और पीजी कोर्सेज में मिलाकर 2,10,522 स्टूडेंट्स प्राइवेट (नॉन कॉलेजिएट) पढ़ाई कर रहे हैं।

संख्या में बढ़ोतरी के लिए इस बार कोरोना भी वजह मानी जा रही है। क्योंकि रेगूलर स्टूडेंट्स ने भी ज्यादातर कोर्स घर बैठे ही किया है। वहीं नॉन कॉलेजिएट स्टूडेंट्स को सिर्फ परीक्षा फीस देनी पड़ती है। 2020 में सरकारी व निजी कॉलेजों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। इसके बावजूद नॉन कॉलेजिएट की संख्या काफी है।

बीए में बैठेंगे 2.89 लाख स्टूडेंट्स आरयू से जयपुर व दौसा के करीब 400 कॉलेज संबद्ध हैं, जिनके 5.46 लाख स्टूडेंट्स परीक्षा में बैठेंगे। प्रोफेशनल कोर्सेज में 54,723 स्टूडेंट्स हैं। यूजी कोर्सेज की बात करें तो बीए में 2,89,896, बीएससी में 76,067 और बीकॉम में 38,500 स्टूडेंट्स बैठेंगे।

पीजी में सीट्स कम हैं तो जिन स्टूडेंट्स का एडमिशन आरयू में नहीं हो पाता वे प्राइवेट के तौर पर पीजी करते हैं।
प्रो.एसएल शर्मा, परीक्षा निदेशक

जॉब की दृष्टि से देखा जाए तो रेगूलर और नॉन कॉलेजिएट की डिग्री से कोई फर्क नही पड़ता।
पुनीत शर्मा, एजुकेशन एक्सपर्ट

यूजी, पीजी, प्रोफेशनल मिलाकर 5.46 लाख स्टूडेंट्स

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें