पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऐसी भी मजबूरी:ऑक्सीजन मिल रही है, लेकिन लाने के लिए संसाधन नहीं; परिवहन विभाग ने लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंकर सप्लायर्स से वाट्सएप पर मांगे आवेदन

जयपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक ही दिन में सभी प्रक्रिया पूरी कर दिया जाएगा वर्क ऑर्डर

राजस्थान में बढ़ती ऑक्सीजन किल्लत के बीच भले ही केन्द्र सरकार ने ऑक्सीजन का कोटा बढ़ा दिया हो, लेकिन सरकार के पास ऑक्सीजन लाने के लिए पर्याप्त मात्रा में संसाधन नहीं है। इसे देखते हुए परिवहन विभाग ने अब देशभर के टैंकर सप्लायर्स से आवेदन मांगे है। मौजूदा समय की गंभीरता को देखते हुए परिवहन विभाग ने बिना कोई औपचारिकता किए प्रस्ताव सीधे वाट्सएप नंबर और विभाग की ईमेल आईडी पर मांगे है, ताकि टेण्डर प्रक्रिया या अन्य कार्य में देरी न हो। यही नहीं प्रस्ताव प्राप्त होने पर सभी औपचारिकताएं भी एक ही दिन में पूरी कर टैंकर सप्लायर को वर्क ऑर्डर जारी किया जाएगा।

परिवहन आयुक्त महेंद्र सोनी ने बताया कि टैंकर सप्लायर्स से प्राप्त प्रस्तावों के लिए विभागीय समिति का गठन किया हैं। यह समिति प्रति टैंकर प्रति किलोमीटर की दरों का निर्धारण कर, उस दरों पर टैंकर उपलब्ध करवाने वाली फर्म को सेंशन लेटर जारी करेगी। उन्होंने बताया कि मौजूदा गंभीर स्थिति को देखते हुए टैंकर सप्लायरों से मिलने वाले प्रस्ताव पर उसी दिन विचार कर वर्क ऑर्डर सहित अन्य कार्यवाही पूरी करेगी, ताकि किसी तरह की देरी न हो सके। इसके लिए उन्होंने परिवहन विभाग की ईमेल transport@rajasthan.gov.in पर और वॉट्सऐप नंबर 9829180005 पर भी प्रस्ताव मांगे है।

इन लोगों की बनाई कमेटी
इस कमेटी में प्रादेशिक परिवहन आयुक्त जयपुर राकेश शर्मा को संयोजक बनाया है। वहीं, वित्तीय सलाहकार आदित्य पारीक, संयुक्त परिवहन आयुक्त विनोद कुमार, संयुक्त परिवहन आयुक्त भंवरलाल, जिला परिवहन अधिकारी प्रर्वतन जयपुर आर.के. चौधरी, उप वित्तीय सलाहकार मनोज गर्वा को सदस्य सचिव के तौर पर शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें