• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Panchayat Elections BJP's Fence From UP To Gujarat, 6 District Chiefs And 78 Heads Will Be Elected, There Will Be Trouble In Jaipur Jodhpur Bharatpur

आज फैसले की घड़ी:पंचायत चुनाव- यूपी से गुजरात तक बीजेपी की बाड़ेबंदी, 6 जिला प्रमुख और 78 प्रधान चुने जाएंगे, जयपुर-जोधपुर-भरतपुर में पेच

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उप जिला प्रमुख और उप प्रधान का चुनाव 7 सितंबर काे हाेगा।

​​​​​​ - Dainik Bhaskar
उप जिला प्रमुख और उप प्रधान का चुनाव 7 सितंबर काे हाेगा। ​​​​​​

जिला प्रमुख और प्रधान के लिए नामांकन पत्र सोमवार सुबह 10 से 11 बजे तक भरे जाएंगे। सुबह 11:30 बजे नामांकन पत्रों की जांच होगी और उम्मीदवार को दोपहर एक बजे तक नाम वापस लेने का समय दिया जाएगा। एक से अधिक उम्मीदवार होने पर दोपहर 1 बजे बाद चुनाव चिह्नों का आवंटन किया जाएगा। दोपहर 3 से शाम 5 बजे तक वोटिंग होगी। वोटिंग खत्म होने के तुरंत बाद काउंटिंग करके रिजल्ट घोषित किया जाएगा। उप जिला प्रमुख और उप प्रधान का चुनाव 7 सितंबर काे हाेगा।

आखिर कौन होगा प्रधानी का दावेदार?

  • उच्चैन पंचायत समिति में कांग्रेस का बोर्ड बन सकता है। नदबई विधायक जोगिन्दर सिंह अवाना के बेटे हिमांशु अवाना वार्ड नंबर 13 से निर्विरोध चुने गए थे। यहां भाजपा को सिर्फ 1 सीट मिली, कांग्रेस को 4 निर्दलीय 7 और बसपा 2 पर सिमट गई। बाड़ेबंदी के चक्कर में अवाना काे एक गांव में विराेध झेलना पड़ा है। मारपीट तक की नाैबत आई है।
  • मंत्री भजन लाल अपनी बेटी सुमन और पुत्रवधू साक्षी को प्रधान बनाने के लिए पूरी ताकत लगाए हैं।
  • कामां विधायक जाहिदा खान के बेटे पहाड़ी पंचायत समिति से प्रधानी के मुख्य दावेदार हैं। पहाड़ी पंचायत समिति में 25 वार्ड हैं। इसमें से भाजपा के 2 प्रत्याशी कांग्रेस के 11 और 16 निर्दलीय जीते हैं। जाहिदा बेटे साजिद को प्रधान बनाने के लिए पूरा जोर लगा रहीं।
  • कामां पंचायत समिति के वार्ड नंबर 13 से जाहिदा खान की बेटी शहनाज को प्रधानी का दावेदार माना जा रहा है शहनाज निर्विरोध चुनी गई हैं।

किसकी होगी कुर्सी? कहीं अपनों में पंगा...तो कहीं निर्दलीय किंगमेकर

जोधपुर; लीला मदेरणा और मुन्नी गाेदारा आमने-सामने, चूक हुई तो किरकिरी तय
जाेधपुर जिला परिषद में प्रत्याशी चयन को लेकर उलझ है। इतना तय है कि एक भी चूक कांग्रेस की किरकिरी करा देगी। महिपाल मदेरणा की पत्नी लीला मदेरणा और बद्रीराम जाखड़ की बेटी मुन्नी गोदारा दोनों अड़े हुए हैं। दोनों के पास खुद समेत चार-चार सदस्यों का समर्थन है।

किसी एक को प्रत्याशी बनाया तो दूसरे पक्ष की क्रॉस वोटिंग का खतरा है। माना जा रहा है कि नए प्रत्याशी की संभावना तलाशी जा रही है, पर शर्त यह है कि वह दोनों को मान्य हो। ऐसा कोई प्रत्याशी मिलता मुश्किल दिख रहा है। पर्यवेक्षकों व रणनीतिकार इसी में उलझे हुए हैं।

भरतपुर; भाजपा के पास कुल 17 सीटें तो हैं पर चाहिए 19 सीटें यानी 2 की जुगाड़ में जुटे
भरतपुर में जिला प्रमुख के लिए सिर्फ एक ही बड़ा नाम सामने आ रहा है बीजेपी के जगत सिंह का। जगत पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह के बेटे हैं और विधायक रह चुके हैं। जिला परिषद के चुनावों में भी उन्होंने 5 हजार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की है। उनकी बाड़ेबंदी यूपी तक हुई है। बीजेपी के पास 17 सीटें हैं और बाेर्ड बनाने के लिए 19 सीटाें की जरूरत है। कांग्रेस की तरफ से भरत का नाम सामने आ रहा है। भरत वार्ड नंबर 9 से कांग्रेस के टिकट पर जीते हैं। कांग्रेस के मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग और डीग कुम्हेर विधायक विश्वेन्द्र सिंह रणनीति बना रहे हैं।

जयपुर; गुटबाजी से बिगड़ सकता है खेल
जयपुर में साेमवार का दिन बेहद अहम है और बीजेपी कांग्रेस दाेनाे ने बाड़ेबंदी कर रखी है। कांग्रेस के 27 ताे बीजेपी के 24 सदस्य है। जिला प्रमुख की सीट कांग्रेस में जाना तय माना रहा है। वहीं बीजेपी भी मुकाबले में प्रत्याशी घाेषित करके उलटफेर कर सकती है।

सिरोही; यहां भाजपा का बोर्ड बनना तय है
जिला प्रमुख पद पर सिराेही में बीजेपी का बाेर्ड बनना तय है और जीते हुए कई सदस्यों काे गुजरात भेजा गया है। प्रधानी में भी बाड़ेबंदी के तहत कुछ सदस्याें काे गुजरात भेजा गया है। यहां कुल 21 सीटों में से 17 भाजपा ने जीती हैं और 4 कांग्रेस के खाते में गई हैं।

स. माधोपुर; कांग्रेस की सीट यहां पक्की
सवाई माधाेपुर में कांग्रेस जिला प्रमुख बनेगा। बड़ी संख्या में प्रधानी भी कांग्रेस के खाते में जाती दिख रही है। हालांकि यहां बीजेपी के भी प्रधान बनने की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता है। यहां 25 सीटें हैं, जिनमें भाजपा ने 8, कांग्रेस 16 व 1 निर्दलीय ने जीती।

दौसा; 17 सीटें जीतने वाली कांग्रेस आगे है
दाैसा जिला परिषद चुनाव में कांग्रेस के 17, बीजेपी के 8, निर्दलीय 3 और बसपा का एक है। दाैसा का जिला प्रमुख पद कांग्रेस के खाते में जा रहा है। पार्टी हीरालाल सैनी काे प्रत्याशी बना सकती है। उधर दाैसा में प्रधानी की अधिकांश सीटें भी कांग्रेस के खाते में जाती दिख रही है।

खबरें और भी हैं...