पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपिल:जो मरीज ठीक हो चुके हैं, वे प्लाज्मा दान करने के लिए आगे आएं : राज्यपाल मिश्र

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी प्लाज्मा दान में समन्वयक की भूमिका निभाएं

राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेशवासियों से प्लाज्मा दान करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि प्लाज्मा दान करने के लिए लोग आगे आएं, ताकि कोविड़ से ग्रसित गम्भीर मरीजों को प्लाज्मा थैरेपी से जीवनदान मिल सके। राज्यपाल ने कहा कि प्लाज्मा थैरेपी, कोरोना का एक प्रभावी उपचार हैं। प्लाज्मा उसी व्यक्ति का लिया जाता है, जो इस बीमारी से जंग जीतकर ठीक हुआ है। वर्तमान में प्रदेश के लगभग एक लाख से अधिक व्यक्ति इस बीमारी से संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके हैं। मिश्र ने कहा कि प्लाज्मा दान करने का तरीका बहुत आसान है।

प्लाज्मा दान करने वाले व्यक्ति का रक्त नही लिया जाता है। प्लाज्मा दान करने वाले व्यक्ति का रक्त एक मशीन से निकलकर साथ ही साथ उसी व्यक्ति के शरीर में रक्त वापिस आ जाता है। मशीन रक्त में से प्लाज्मा ले लेती है। इससे किसी प्रकार की कमजोरी नही आती है। जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल के साथ ही संभागीय स्तर के मेडिकल कॉलेजों में यह सुविधा उपलब्ध है।

इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी का प्रेसीडेंट होने के नाते राज्यपाल ने सोसायटी के सदस्यों से आग्रह किया कि सोसायटी के माध्यम से लोगों को प्लाज्मा दान करने के लिए प्रेरित किया जाए। प्लाज्मा दान करने के इच्छुक लोगों की प्लाज्मा दान कराने की व्यवस्था करें। सोसायटी के सदस्य कोरोना से ठीक हुए लोग और अस्पताल प्रशासन के मध्य समन्वयक की भूमिका निभाएं।

खबरें और भी हैं...