ट्रांसफर के लिए ग्रेड थर्ड टीचर का बढ़ा इंतजार:कार्मिक विभाग ने लौटाई ट्रांसफर पॉलिसी, शिक्षा मंत्री बोले- दूसरे राज्यों की करेंगे स्टडी

जयपुर2 महीने पहले
दीपावली से पहले प्रदेश भर के थर्ड पर टीचर्स ने जयपुर में सरकार के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना शुरू दिया था। जिसमें बड़ी संख्या में टीचर्स के साथ उनके परिजन भी शामिल हुए थे। (फाइल फोटो)

राजस्थान में पिछले 4 साल से ट्रांसफर का इंतजार कर रहे ग्रेड थर्ड टीचर्स का इंतजार और बढ़ गया है। शिक्षा विभाग द्वारा ग्रेड थर्ड टीचर्स के लिए तैयार की गई ट्रांसफर पॉलिसी को कार्मिक विभाग ने लौटा दिया है। ऐसे में अब देश के दूसरे राज्यों की ट्रांसफर पॉलिसी के अध्यन के बाद शिक्षा विभाग फिर से नई पॉलिसी तैयार करेगा। जिसके आधार पर ही सालों से इंतजार कर रहे टीचर्स के ट्रांसफर हो सकेंगे। वहीं कार्मिक विभाग के इस फैसले के बाद थर्ड ग्रेड टीचर में सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है। थर्ड ग्रेड टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि अगर सरकार ने जल्द से जल्द हमारे ट्रांसफर नहीं किए। तो प्रदेशभर के टीचर कार्य बहिष्कार कर सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करेंगे।

दूसरे राज्यों की पॉलिसी के आधार पर करेंगे बदलाव
शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि हमारे विभाग ने ट्रांसफर के लिए पॉलिसी तैयार कर कार्मिक विभाग के पास भेजी थी। लेकिन कार्मिक विभाग संशोधन के लिए पॉलिसी को लौटा दिया है। ऐसे में अब देश के दूसरे राज्यों की ट्रांसफर पॉलिसी का अध्ययन करेंगे। वहां किस आधार पर ट्रांसफर हो रहे है। उनमें प्राथमिकता किस आधार पर दी जाती है। ऐसे सभी पहलुओं का अध्यन कर हम अपनी पॉलिसी में बदलाव करेंगे। जिसके आधार पर भविष्य में ग्रेड थर्ड टीचर्स के ट्रांसफर किए जाएंगे।

सरकार के खिलाफ लड़ेंगे आर-पार की लड़ाई
राजस्थान शिक्षक संघ एकीकृत के प्रदेश अध्यक्ष गिरिराज शर्मा ने कहा कि 10 साल से ज्यादा का वक्त हो गया है। प्रदेशभर में ग्रेड टीचर ट्रांसफर का इंतजार कर रहे हैं। 4 साल पहले कांग्रेस सरकार जब सत्ता में नहीं थी। तब उन्होंने ग्रेड थर्ड टीचर्स के ट्रांसफर का वादा किया था। लेकिन सत्ता में आने के 4 साल बीत जाने के बाद भी ग्रेड थर्ड टीचर का ट्रांसफर नहीं हो पाया है। बल्कि हमें कभी आवेदन मांग, तो कभी नई पॉलिसी के आधार पर ट्रांसफर करने के झूठे दिलासे दिए गए हैं। ऐसे में अगर जल्द से जल्द सरकार ने पुरानी पॉलिसी के तहत ही ग्रेड थर्ड टीचर ट्रांसफर नहीं किया। तो प्रदेशभर के टीचर्स सरकार के खिलाफ आंदोलन कर आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे।

12 सालों में केवल 2 बार हुए ट्रांसफर
राजस्थान में थर्ड ग्रेड टीचर्स का ट्रांसफर पिछले 12 साल में सिर्फ दो बार हुए हैं। 2010 में कांग्रेस सरकार ने जबकि 2018 में बीजेपी सरकार थर्ड ग्रेड टीचर्स के ट्रांसफर कर चुकी है। वहीं राजस्थान में पिछले साल अगस्त महीने में शाला दर्पण पर टीचर्स से ट्रांसफर के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे। जिसमें प्रदेश के 2.25 लाख टीचर्स में से 85 हजार ने अपने गृह जिले में आने के लिए आवेदन किया था। लेकिन 14 महीने का वक्त बीत जाने के बाद भी टीचर्स के ट्रांसफर नहीं हुए। वहीं ट्रांसफर पॉलिसी में फिर से बदलाव की तैयारी शुरू कर रहे शिक्षा विभाग के खिलाफ अब ग्रेड थर्ड टीचर्स ने आंदोलन की तैयारी शुरू कर दी है।