कांग्रेस की रैली को चुनौती देती अर्जी खारिज:रैली के खिलाफ याचिका पब्लिसिटी स्टंट है, ओमिक्रॉन घातक नहीं -हाईकोर्ट में सरकार

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
परसादीलाल मीणा, चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य मंत्री। - Dainik Bhaskar
परसादीलाल मीणा, चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य मंत्री।

ओमिक्रॉन की दस्तक के साथ प्रदेश में कोरोना बेकाबू हो गया है। सोमवार को 29 नए रोगी मिले और 18 दिन बाद एक मौत भी हुई। बीकानेर में 22 साल की युवती ने दम तोड़ा। उसे टीके की डोज नहीं लगी थी। इससे पहले 18 नवंबर को जयपुर में मौत हुई थी। इसी बीच, हाईकोर्ट ने 12 दिसंबर को महंगाई के खिलाफ होने वाली कांग्रेस की रैली को चुनौती देती याचिका को खारिज कर दिया।

सीजे अकील कुरैशी व जस्टिस उमाशंकर व्यास की खंडपीठ ने यह आदेश राजेश मूथा की पीआईएल पर दिया। इस दौरान राज्य सरकार की ओर से एजी एमएस सिंघवी ने कहा- पीआईएल पब्लिसिटी स्टंट है और राजनीति से प्रेरित है। जिस दिन कांग्रेस रैली की खबर छपी उसी दिन प्रार्थी ने बिना तैयारी के पीआईएल दायर कर दी। इसमें 5 दिसंबर को होने वाली रैली को चुनौती नहीं दी गई है। डॉक्टर्स ने भी कहा है कि ओमिक्रॉन ज्यादा घातक नहीं है।

  • स्कूल भी जद में... जयपुर में महावीर स्कूल के छात्र सहित 15 लोग पॉजिटिव मिले हैं। अब तक 38 स्कूली बच्चे संक्रमित मिले हैं।
  • ओमिक्रॉन के दो और संदिग्ध... जर्मनी से 27 नवंबर को जयपुर आए 4 लोगों में से एक पॉजिटिव। कोटा की 19 साल की युवती जयपुर एयरपोर्ट पर संक्रमित मिली। यूक्रेन से लौटी है। जीनोम सीक्वेंसिंग की जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्री बोले- हमने राजस्थान में ओमिक्रॉन पाॅजिटिव के संपर्क में आए सभी को ट्रेस कर लिया, हौवा न फैलाएं, इससे मौतें नहीं हुई

Q. ओमिक्रॉन जैसा खतरनाक वायरस फैल गया है। आप जयपुर से बाहर चले गए?
- मैं जयपुर ही हूं। ओमिक्रॉन के हालात पर लगातार मानिटरिंग कर रहे हैं।

Q. ओमिक्रोन वैरिएंट के पाॅजिटिव केस जयपुर में मिले। आपकी क्या तैयारी है?
- हमने युद्ध स्तर पर कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग पूरी करवा ली और सभी की जांचें करवा ली। अफसरों से हर पल-पल की रिपोर्ट ले रहे हैं।

Q. मंत्री होकर आपकी तरफ से अफसरों को क्या निर्देश दिए गए?
- हमने सभी अफसरों को मुस्तैद कर रखा है। मीटिंग कर रहे। अफ्रीका से आए लोगों की पहचान होते ही सभी पाॅजिटिव पाए गए लोगों को क्वारेंटाइन करने को कहा। आरयूएचएस में भर्ती कर कालोनी से दूर करवाया और पूरा इलाज करवाने के आदेश दिए।

Q. पाॅजिटिव लोग सिटी पैलेस से लेकर शादी में बहुत लोगों के संपर्क में आ चुके। कितने राज्यों के लोग इनके संपर्क में आए?
दिल्ली और राजस्थान के ही संपर्क में आए। राजस्थान के सभी की ट्रेसिंग कर जांच करवा ली। दिल्ली सरकार को भी पत्र लिख कर जांच के लिए कह दिया।

Q. मंत्री के स्तर से विभाग को क्या निर्देश दिए आपने?
पूरी सावधानी बरती जा रही है। पूरी दुनिया में इस वैरिएंट से मौतें नहीं हैं। जितना हौवा फैलाया गया, वैसा कुछ नहीं है।

किसी देश में ओमीक्रोन से मौत नहीं हुई अब तक।

Q. ओमीक्रोन को लेकर फैली दहशत पर आपकी तरफ से राजस्थान की जनता के लिए क्या संदेश हैं?
कोई घबराएं नहीं। हमने ओमिक्रोन को काबू करने के पूरे प्रबंध कर रखे हैं। अफवाहों में न आए और कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर कर मास्क लगाएं। भीड़ से बचें।

खबरें और भी हैं...